-छह महीनों से नहीं हो रहा वेतन भुगतान, हालत पतली

-आंदोलनकारियों ने की बीएसएनएल को बचाने की अपील जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी :

भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के संविदा कर्मचारियों ने गत छह महीनों से वेतन नहीं मिलने के विरुद्ध सोमवार से फिर यहां बीएसएनएल के क्षेत्रीय कार्यालय में धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। वेस्ट बंगाल कांट्रैक्चुअल बीएसएनएल वर्कर्स यूनियन व टेलीकॉम सेक्योरिटी एंप्लाईज यूनियन के ज्वाइंट फोरम बैनर तले संविदा कर्मचारियों ने दिन भर धरना प्रदर्शन किया।

इस बारे में यूनियन के सचिव अशोक दास ने कहा कि हम लगभग 350 संविदा कर्मचारियों का वेतन भुगतान पिछले छह महीने से नहीं हो रहा है। इस बाबत हमने अप्रैल महीने में भी धरना प्रदर्शन किया था। उसके बाद लोकसभा चुनाव के चलते हमने आंदोलन स्थगित कर दिया। तब भी हमारा वेतन भुगतान नहीं हुआ। इधर, गत 15 जुलाई को हमारे यूनियन की ओर से बीएसएनएल के क्षेत्रीय महाप्रबंधक को ज्ञापन भी दिया गया। उन्होंने तीन दिनों के अंदर वेतन भुगतान का आश्वासन दिया पर वह भी पूरा नहीं हुआ। इसीलिए बाध्य हो कर हम लोगों ने फिर से आंदोलन शुरू किया है। जब तक हमें हमारा वेतन नहीं मिल जाता तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा।

इस अवसर पर प्रदर्शनकारी कर्मचारियों ने 'सेव बीएसएनएल, सेव नेशन' का भी नारा दिया। कहा कि, सुनने में आ रहा है कि भारत सरकार बीएसएनएल के 75 हजार कर्मचारियों की छंटनी करेगी। बीएसएनएल को बंद कर दिए जाने की भी खबरें सुनाई दे रही हैं। यदि ऐसा होता है तो यह सही नहीं होगा। इसे हर्गिज बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके खिलाफ हमारा आंदोलन सतत रूप में जारी रहेगा। उन्होंने आम लोगों से भी उनके आंदोलन में सहयोग की अपील की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस