दार्जिलिंग, जेएनएन। गोरखालैंड आदोलन के दौरान विभिन्न अगणतांत्रिक कार्य में लिप्त होने के आरोप में विमल गुरुंग दिल्ली में जंतर मंतर पर धरना दिया।

प्रस्तावित गोरखालैंड क्षेत्र में राज्य सरकार विगत 2017 से अब तक गोरखालैंड राज्य के निर्माण के लिए लोकतांत्रिक, गांधीवादी नीति, के साथ शांतिपूर्ण जुलूस, धरना प्रदर्शन व आंदोलन करने पर युवाओं पर गलत आरोप लगाकर जेल में डाल दिया गया।

उक्त कार्य के विरोध में ही विमल गुरुंग पंथी द्वारा जंतर मंतर पर धरना दिया गया। इसमें सेव डेमाक्रेसी इन दार्जिलिंग, स्टॉप पुलिस एट्रोसिटी इन दार्जीलिंग,कलिम्पोंग ,तराई व डुवार्स के साथ पहाड़ अशांत करने के लिए केंद्र सरकार के हस्तक्षेप की मांग की गई।

तभी गोरखा, आदिवासी व अन्य समाज को न्याय मिल सकता है। इस दिन के धरने में रमेश आले , अनिल लोपचन ,दिल्ली से रोशन रामुदामु , राकेश थापा .भारत सिंह .मोतिलाल शर्मा, डीके रइसाइली ,आकाश रामुदामु, समीर राइ ,बिकाश लोहानी, उत्तम बिश्वा, योगेश शकर , दीपेन भूजेल व अन्य मौजूद थे। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप