जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : मुर्शिदाबाद जिले के जियागंज थानांतर्गत लेबूतल्ला इलाके में दशहरे के दिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के स्वयंसेवक बंधु प्रकाश पाल (35), उनकी गर्भवती पत्नी ब्यूटी मंडल पाल (30) और बेटे अंगन बंधु पाल (8) की अज्ञात लोगों ने धारदार हथियारों से नृशंस हत्या कर दी। इसके खिलाफ शुक्रवार को सिलीगुड़ी में मोमबत्ती रैली निकाली गयी। रैली में शहर के विभिन्न संगठनों के बुद्धिजीवियों ने भाग लिया। शहर के बाघाजतिन पार्क से निकलकर शहर के प्रमुख मार्गो पर गुजरी। प्रदर्शनकारियों हत्यारों को पकड़कर फांसी की सजा देने की मांग की। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि बंधु प्रकाश पाल पेशे से शिक्षक थे। इसके साथ ही वे आरएसएस के सक्रिय स्वयंसेवक थे। विश्व हिदू परिषद (विहिप) ने इस हत्या के लिए बंगाल की ममता सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। बताया कि यह मानवता को शर्मसार करने वाली घटना है। इन दिनों बंगाल में पुलिस की निष्क्रियता के चलते ही अपराधियों का दुस्साहस बढ़ रहा है। ज्यादातर घटनाएं बंगाल में दिन दहाड़े हुई हैं। रैली के दौरान पुलिस की ओर से सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गये थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस