- पूरे शहर में जोश और उत्साह के साथ रक्षाबंधन पालित

-आज भी बहनें भाइयों को बांधेंगी राखिया

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: बृहस्पतिवार को पूरे शहर में रक्षाबंधन की गूंज रही। बहनों ने अपने भाइयों की कलाई रेशम के डोर से सजाई। इस मौके पर विभिन्न संघ और संगठनों की ओर से रक्षाबंधन त्योहार का आयोजन किया गया। इसी कड़ी डाबग्राम- फुलबाड़ी ब्लाक तृणमूल युवा कांग्रेस व दार्जिलिंग जिला महिला तृणमूल कांग्रेस की ओर से अलग- अलग जगहों पर राखी बंधन उत्सव मनाया गया। डाबग्राम-फूलबाड़ी ब्लाक तृणमूल युवा कांग्रेस की ओर से उत्तरकन्या के नजदीक कमरांगागुड़ी में आयोजित राखी बंधन उत्सव में उत्तर बंगाल विकास विभाग के मंत्री उदयन गुहा व दार्जिलिंग जिला तृणमूल कांग्रेस के चेयरमैन आलोक चक्रवर्ती शामिल हुए। उदयन गुहा व आलोक चक्रवर्ती ने अपनी कलाई पर राखी बंधवाई। इस दौरान उदयन गुहा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि राखी बंधन उत्सव में सभी धर्म व वर्ग के लोग यहां शामिल हुए हैं। यही हमारी संस्कृति है, जहां सर्व वर्ग व धर्म के लोग एक साथ जुड़कर उत्सव मनाते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में देश में धर्म व जाति की राजनीति हो रही है। यह खतरनाक है। इससे बचना होगा। उन्होंने कहा कि हमें एकजुट होकर लोगों के लिए काम करना होगा। वहीं दूसरी ओर से दार्जिलिंग जिला महिला तृणमूल कांग्रेस की ओर से सेवक मोड़ में राहगीरों को राखी बांधी गई। यहां दार्जिलिंग महिला तृणमूल कांग्रेस नेत्री ज्योति तिर्की की मौजूदगी में राखी बंधन उत्सव मनाया गया। पार्टी के सदस्यों व कार्यकर्ताओं ने सड़क से होकर गुजरने वाले सभी को राखी बांधी। इस दौरान ज्योति तिर्की ने कहा कि रक्षा बंधन आपसी रिश्तों को मजबूत करता है। हम लोगों के साथ मिल-जुलकर आगे बढ़ना चाहते हैं। एकसाथ होकर ही विकास के कार्य किए जा सकते है। राखी बंधन उत्सव के जरिए हमने एकजुटता व भाइचारे का संदेश देने का कार्य किया है। हमारी संस्कृति मेल-जोल की रही है। हम किसी के साथ भेदभाव नहीं करते। समाज में रहने वाले सभी हमारे अपने हैं। इधर वार्ड नंबर 28 तृणमूल कांग्रेस कमेटी की ओर से रक्षाबंधन उत्सव मनाया गया। वार्ड कार्यालय के सामने एनटीएस मोड़ में सभी व्यापारियों व राहगीरों को राखी बांधकर व मिठाई खिलाकर रक्षाबंधन उत्सव मनाया गया। वार्ड पार्षद संप्रीता दास ने जिला तृणमूल कांग्रेस महासचिव मदन भट्टाचार्य को राखी बांधकर कार्यक्रम की शुरूआत की।

Edited By: Jagran