मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मंत्री गौतम देव ने आरोप को बताया आधारहीन

जागरण संवाददाता,सिलीगुड़ी : उत्तर बंगाल में दूसरे चरण के मतदान के लिए जैसे-जैसे मतदान की तिथि नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे भाजपा व तृणमूल कांग्रेस में हिसा का दौर शुरू हो गया है।

सिलीगुड़ी पुलिस कमिश्नरेट के

एनजेपी थाना क्षेत्र के तिरूपति लॉज से भाजपा बंगाल सहायक प्रभारी अरविंद मेनन और उत्तर बंगाल के भाजपा संयोजक रथींद्र बोस पर सोमवार की देर शाम 8 :30 बजे तृणमूल समर्थकों द्वारा हमला करने का आरोप भाजपा द्वारा लगाया गया है। इसके अलावा भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट और बंधक बनाने का आरोप टीएमसी के खिलाफ लगाया

गया है। मिली जानकारी के अनुसार इन नेताओं को सीआरपीएफ की मदद से मुक्त कराया गया। भाजपा के दोनों नेताओं ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि वे इस मामले को जनता के बीच ले जाएंगे। जनता इसका जवाब देगी।

बताया गया कि सोमवार दिन में भाजपा की ओर से एनजेपी थाना के सामने पुलिस पर टीएमसी के रूप में काम करने का आरोप लगाते हुए धरना दिया गया। शाम को एनजेपी के तिरुपति लॉज में दूसरे चरण के मतदान के लिए कार्यकताओ की बैठक बुलाई गई थी। बैठक शुरू होने के कुछ देर बाद ही टीएमसी समर्थकों ने वहां पहुंच कर मारपीट शुरू कर दिया। अरबिंद मेनन और रथींद्र बोस को सुरक्षित एक कमरे में बंद कर दिया गया। तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए एनजेपी पुलिस को खबर दी गयी। पुलिस पहुंची परन्तु तनाव को देखकर कुछ नहीं कर पाई। आखिरकार चुनाव के लिए आई सीआरपीएफ की टीम के साथ दोनों को सुरक्षित निकालकर ले जाया गया। इस घटना के बाद से भाजपा कार्यकताओं में रोष है।

वहीं माटीगाड़ा थाने क्षेत्र में भाजपा के प्रचार वाहन पर तृणमूल कांग्रेस समर्थकों द्वारा तोड़-फोड़ करने का मामला सामने आया है। इस घटना के खिलाफ भाजपा माटीगाड़ा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने की बात कही गई है।

वहीं दार्जिलिंग जिला तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष व पर्यटन मंत्री गौतम देव ने भाजपा द्वारा लगाए गए आरोप को निराधार बताते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस हिसा व मारपीट में भरोसा नहीं करती है। भाजपा के लोग आपस में भिड़े होंगे। इस घटना में तृणमूल कांग्रेस का कोई हाथ नहीं है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप