पर्यटकों को आकर्षित करने के गुर भी ड्राइवर को दिए जा रहे

दार्जिलिंग स्टेशन मास्टर को दिए 20 डोको

-----

संवाद सूत्र,दार्जिलिंग: केंद्र सरकार के पर्यटन विभाग व हिमालयन ट्रासपोर्ट कोआíडनेशन कमेटी के संयुक्त तत्वावधान में सोमवार को स्थानीय होटल में कार्यशाला आयोजित की गई। जिसमें कोलकाता से आए प्रशिक्षकों ने यहा के गाड़ी चालक को कोविड-19 के दौरान पर्यटक को सुरक्षा प्रदान करते हुए गाड़ी चलाने के संबंध में जानकारी दी। प्रशिक्षण शिविर में अनेकों गाड़ी चालकों ने भाग लिया। उक्त जानकारी देते हुए सम्राट सान्याल ने बताया कि हम यह कार्यक्रम पूरे नार्थ बंगाल में करेंगे जहां हम ड्राइवर को जो सर्वाधिक समय पर्यटकों के साथ बिताते हैं उन्हें हम किस तरह से महामारी से सुरक्षित कर पर्यटकों को घुमाएं इसकी जानकारी दे रहे हैं। क्यों कि ड्राइवर ही दाíजलिंग का आइना है यदि हमारा व्यवहार पर्यटकों से अच्छा है तो पर्यटक दोबारा आएंगे इसलिए हम हर छोटी छोटी बात उन्हें बता रहे हैं जिससे पर्यटकों को आकíषत किया जा सके। सम्राट सान्याल ने बताया कि आज हम दाíजलिंग हिमालयन रेलवे और भारत पर्यटन विभाग कोलकाता की ओर से स्वच्छ भारत मिशन के लिए दाíजलिंग रेलवे स्टेशन में सफाई कर रहे हैं। सोमवार को सुबह स्टेशन की सफाई की और केंद्रीय पर्यटन विभाग की ओर से ेदाíजलिंग हिमालय रेलवे के स्टेशन मास्टर को 20 डोको दिए गए जो दाíजलिंग के पहचान सिंबल के रूप में प्रत्येक स्टेशन में रखे जाएंगे। सम्राट सान्याल ने बताया कि हम जितनी सफाई रखेंगे उतना ही पर्यटकों का आकर्षण बढ़ेगा दाíजलिंग में पर्यटन व्यवस्था से अनेक लोग जुड़े हैं उन सब को इसका फायदा मिलेगा हिमालय रेलवे के स्टेशन मास्टर ने बताया कि अतुल्य भारत मिशन का यह स्वच्छ भारत अभियान है जिसके तहत पर्यटन विभाग द्वारा 20 डोको हमें दिया गया जिसे हम प्रत्येक हिल स्टेशन में रखेंगे हमारे यहा की सभ्यता से जुड़ा हुआ एक चीज है उन्होंने भारत सरकार के पर्यटन विभाग को धन्यवाद दिया ।

-----------

चित्र परिचय:

Edited By: Jagran