- सिलीगुड़ी-काठमांडू बस सेवा की सभी तैयारियां पूरी

-कोलकाता में एक विशष बस भी पूरी तरह से तैयार

-नेपाल सरकार ने अपनी ओर से दी हरी झंडी

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी :उत्तर बंगाल राज्य परिवहन निगम (एनबीएसटीसी) पहली बार विदेश यात्रा सेवा शुरु कर रही है। इस सेवा के लिए आवश्यक सभी मापदंड पूरा कर लिया गया है। बस भी तैयार है। लेकिन यह सेवा शुरु करने के लिए राज्य के परिवहन मंत्री को हरी झंडी दिखाने तक का समय नहीं है। मंत्री के पास फुर्सत नहीं होने के कारण फिलहाल इस बस सेवा को ग्रहण लग गया है। एनबीएसटीसी की यह विदेश यात्रा सेवा सिलीगुड़ी से पड़ोसी देश नेपाल के बीच शुरु होने वाली है। एनबीएसटीसी उत्तर बंगाल समेत राज्य की राजधानी कोलकाता, बहरमपुर, आसनसोल व दक्षिण बंगाल के विभिन्न इलाकों के साथ पड़ोसी राज्य झारखंड की राजधानी रांची के लिए भी बस चला रही है। पहले तो एनबीएसटीसी की बसें पड़ोसी राज्य बिहार के कई शहरों के लिए चलती थी। अब यह बंगाल-बिहार सीमांत इलाकों तक सिमट गई है। कुल मिलाकर एनबीएसटीसी की बस सेवा राज्य के साथ पड़ोसी कुछ राज्यों तक ही सीमित है। लेकिन एनबीएसटीसी ने अब विदेशा यात्रा सेवा शुरू करने का भी निर्णय लिया है। सिलीगुड़ी से पड़ोसी देश नेपाल की राजधानी काठमांडू तक बस सेवा शुरू करने का रोडमैप तैयार है। राज्य सरकार काफी समय से यह सेवा शुरू करना चाहती थी। इस दिशा में नेपाल सरकार ने भी तत्परता दिखाई है। एनबीएसटीसी से प्राप्त जानकारी के अनुसार सिलीगुड़ी-काठमांडू बस परिसेवा के लिए पश्चिम बंगाल और नेपाल सरकार के बीच सहमति बनी है। राज्य परिवहन विभाग और नेपाल परिवहन विभाग के आला अधिकारियों ने साथ में बस रुट का निरीक्षण भी किया है। सिलीगुड़ी से काठमांडू के लिए एक दिन के अंतराल पर सप्ताह में तीन दिन एनबीएसटीसी की बस और सप्ताह में तीन दिन नेपाल परिवहन की बस रवाना होगी। अर्थात सप्ताह के छह दिन सिलीगुड़ी से नेपाल के बीच दोनों छोर से यात्रियों को बस परिसेवा मुहैया कराई जाएगी। इसके लिए एनबीएसटीसी ने एक नया वोल्वो बस उतारा है। इस रुट पर दौड़ने वाली एनबीएसटीसी की वोल्वो बस फिलहाल कोलकाता में है, जो अगले कुछ दिनों में सिलीगुड़ी पहुंचेगी। सिलीगुड़ी से काठमांडू के लिए एनबीएसटीसी ने सोलह सौ रुपए किराया निर्धारित किया है। सिलीगुड़ी से रोजाना शाम को करीब 4 बजे बस काठमांडू के लिए रवाना होगी। सिलीगुड़ी से काठमांडू की यात्रा 14 से 15 घंटे की होगी। यात्रा के दौरान यात्रियों को एक बार रात्री भोजन और सुबह के समय चाय-नास्ते के लिए होटल पर विश्राम दिया जाएगा।

इस संबंध में एनबीएसटीसी के चेयरमैन अपूर्व सरकार को कई बार फोन पर संपर्क साधने के बाद भी उन्होंने कोई उत्तर नहीं किया। जबकि एनबीएसटीसी सिलीगुड़ी डिपो प्रभारी श्यामल सरकार ने बताया कि सिलीगुड़ी-काठमांडू बस परिसेवा योजना की तैयारी पूरी हो चुकी है। एनबीएसटीसी की वोल्वो बस भी तैयार है। फरवरी महीने में ही योजना की शुरूआत होनी थी। लेकिन परिवहन मंत्री की व्यस्तता की वजह से तारीख को पीछे करना पड़ा है। जल्द ही मंत्री बस को हरी झंडी दिखाकर एनबीएसटीसी की पहली विदेशा यात्रा का शुभारंभ करेंगे।

एनबीएसटीसी द्वारा सिलीगुड़ी से काठमांडू के बीच बस सेवा शुरू करने की खबर से पर्यटन कारोबारी भी गदगद हैं। यह लोग जल्द सेवा शुरू कराना चाहते हैं। इनका कहना है कि सरकारी बस सेवा शुरु होने से पर्यटन व्यवसाय को भी बढ़ावा मिलेगा। हिमालयन हॉस्पिटेलिटी एंड टूरिज्म डेवलपमेंट नेटवर्क के सचिव सम्राट सान्याल ने बताया कि दोनों देशों के बीच मैत्री में और प्रगाढ़ता आएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस