हावड़ा, जागरण संवाददाता। करीब 2 साल पहले रक्तदान शिविर आयोजित करने के नाम पर बाली के महादेव जूट मिल के श्रमिकों से सत्ताधारी दल के श्रमिक यूनियन आईएनटीटीयूसी ने सौ-सौ रुपये बतौर चंदा लिया था। हालांकि दो साल बीत जाने के बाद भी रक्तदान शिविर आजतक आयोजित नहीं हुआ।

श्रमिक खुद को ठगा हुआ महसूस कर रहे थे। श्रमिकों ने चंदे के नाम पर लिए गए उक्त रुपये लौटाने की मांग रखी। इस मसले पर उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से लेकर बाली की विधायक वैशाली डालमिया से हस्तक्षेप करने की अपील की। अब इस मामले में एक सकारात्मक व स्वागत योग्य निर्णय लिया गया है।

विधायक वैशाली डालमिया और मिल प्रबंधन की मध्यस्थता के बाद उक्त रुपये जो श्रमिकों से रक्तदान के नाम पर लिए गए थे उन्हें लौटाए गए हैं। आइएनटीटीयूसी के अध्यक्ष व सचिव काशी नाथ माइती के खिलाफ उक्त रुपये वसूलने का आरोप है। शनिवार को सुबह 10 बजे मिल के समक्ष आयोजित कार्यक्रम में श्रमिकों में वो रुपये आवंटित कर दिए गए। रुपया पाकर श्रमिकों में खुशी है। उन्होंने स्थानीय विधायक वैशाली डालमिया व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इसके लिए धन्यवाद दिया है। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Preeti jha