-अंतरराज्यीय ड्रग्स तस्करी गिरोह का भंडाफोड़

-कई औरों के भी जुड़े होने की संभावना,खंगालने में जुटी पुलिस

-दोनों को आज कोर्ट से रिमांड पर लेगी पुलिस

-गुप्त सूचना के आधार पर एसएसबी ने की कार्रवाई

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : सशस्त्र सीमा बल यानि एसएसबी 41वीं बटालियन की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर बिहार सीमांत खोरीबाड़ी बस पडाव के पास से अंतरराज्यीय ड्रग्स तस्करी गिरोह का भंडाफोड़ किया है। एसएसबी ने दो पैकेट में 750 ग्राम ब्राउन शुगर के साथ बिहार में किशनगंज के धरमगंज निवासी उमा शंकर शर्मा व मोहम्मद संजूर अली को गिरफ्तार किया है। दोनों के पास से दो मोबाइल फोन भी बरामद हुए हैं। दार्जिलिंग जिला ग्रामीण डीएसपी अचिंत गुप्त ने बताया कि शनिवार की देर रात एसएसबी की टीम ने दो मादक पदार्थ तस्कर को खोरीबाड़ी पुलिस को सौंपा है। उसे सोमवार को एनडीपीएस कोर्ट से रिमांड पर लिए जाने की प्रार्थना की जाएगी। इसके माध्यम से अंतरराज्यीय मादक पदार्थ तस्करों के पूरे रैकेट को खंगाला जाएगा। आशंका है कि यह ब्राउन शुगर दोनों मादक तस्कर बंगाल से लेकर बिहार के किशनगंज जाने वाले थे। इन दिनों बिहार में शराब पर प्रतिबंध के बाद युवाओं को सफेद पाउडर के नाम पर जहर परोसा जा रहा है। बिहार के कई और लोग इसमें शामिल हो सकते है जो पूर्णियां, कटिहार, भागलपुर और पटना तक फैले हो सकते है। किशनगंज के एसपी से भी इस मामले में मदद लेकर मादक पदार्थ के तस्करों के किंगपिन तक पहुंचने का प्रयास करेंगे।

घटना के संबंध में बताया गया कि एसएसबी खुफिया विंग को सूचना मिली कि बड़ी मात्रा में मादक पदार्थ की खेप बंगाल के खोरीाबड़ी पहुंचने वाली है। सूचना के आधार पर कादोमनी जोत से चार किलोमीटर दूर खोरीबाड़ी बस पडाव के निकट दो युवकों को संदेहजनक स्थिति में देखा गया। दोनों किसी का इंतजार कर रहे थे। दोनों को एसएसबी की टीम ने दबोच लिया। जब तलाशी ली गई तो उनके पास पास से दो प्लास्टिक पैकेट में मादक पदार्थ पाए गए। उसकी जांच की गई तो पता चला कि यह ब्राउन शुगर है। वजन 750 ग्राम है। ये दोनों जिन दो लोगों का इंतजार कर रहे थे, वे इनके पकड़े जाने के बाद वहां नहीं पहुंचे। दोनों आरोपितों को एसएसबी ने आवश्यक कार्रवाई पूरी करते हुए खोरीबाड़ी थाना को सौंप दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस