-सेना खुफिया विभाग की टीम भी करेगी पूछताछ

-केंद्रीय गृह मंत्रालय को रिपोर्ट भेजने की तैयारी

-आरोपी का हमेशा नेपाल से था आना-जाना जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : 9 एमएम पिस्टल के साथ गिरफ्तार देवानंद जोशी को अदालत ने 5 दिन की रिमाड पर सिलीगुड़ी थाना पुलिस के हवाले किया है। वहीं दूसरी ओर देवानंद जोशी के तार पड़ोसी देश नेपाल के उग्रपंथी ग्रुप के साथ जुड़ते लग रहे हैं। बल्कि सिलीगुड़ी से सटे भारत-नेपाल सीमात पानीटंकी बॉर्डर के आस-पास बसे उग्रपंथी ग्रुप के कई शागिर्दो के नाम भी सामने आए हैं। सेना की खुफिया विभाग भी आरोपित से पूछताछ की तैयारी मे है। जिसकी रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को भी भेजी जाएगी। उल्लेखनीय है कि भारतीय सेना की खुफिया विभाग द्वारा प्रदत्त जानकारी के आधार पर बीते मंगलवार की रात सिलीगुड़ी थाने की सिविल ड्रेस की पुलिस टीम ने 9 एमएम पिस्टल के साथ 52 वर्षीय देवानंद जोशी को गिरफ्तार किया। आरोपी सिलीगुड़ी के 5 नंबर वार्ड स्थित गंगा नगर का निवासी बताया जा रहा है। लेकिन इसके तार नेपाल के उग्रपंथी समूहों के साथ जुड़ रहे हैं। आरोपित का नेपाल आन-जाना भी था। इसकी गिरफ्तारी के बाद से ही शहर मे खलबली मची हुई है। पुलिस के अनुसार आरोपित के पास से सिर्फ एक पिस्टल बरामद हुआ है, कारतूस नहीं मिला है। वहीं खुफिया विभाग सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपित का कनैक्शन नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (एमएल) के साथ है। बरामद पिस्टल भी एनसीपीएमएल ग्रुप को ही डिलीवर किया जाना था। सूत्रों की माने तो नेपाल के उग्रपंथियों के पास कारतूस की नहीं हथियार की कमी है। इसी वजह से भारत सहित आस-पास के कई देशों से नेपाल के उग्रपंथी हथियार मागने की फिराक में हैं। खुफिया विभाग के अनुसार बरामद हथियार सिलीगुड़ी से सटे इंडो-नेपाल बॉर्डर पानीटंकी के रास्ते नेपाल भेजा जाना था। इस मामले मे पानीटंकी के किसी नवाब का नाम सामने आ रहा है। इसी नवाब के हाथों हथियार नेपाल भेजने की योजना थी। पानीटंकी सीमांत इलाका बेहद संवेदनशील

पानीटंकी इलाके में नेपाल के सैकड़ों नागरिक बसे हुए हैं। उनमे से कई के तार नेपाल के उग्रपंथी और आतंकवादी संगठनो के साथ जुड़े पाये गए है। सूत्रों के मुताबिक भारतीय मूल के किसी व्यक्ति को सामने खड़ा कर के नेपाल के काफी लोग पानीटंकी सीमात इलाके मे जमीन खरीद रहे हैं। बल्कि दुकान और मकान भी बना रहे हैं। सीमात इलाके मे दुकान की वजह से कई नेपाल के नागरिक रोजाना सीमा लाघ कर आ-जा रहे हैं। पानीटंकी इलाके में बसा यह नवाब भी पड़ोसी देश नेपाल के बीरता मोड़ इलाके का मूल निवासी बताया जा रहा है। बल्कि इसका सिलीगुड़ी के कई नेताओं के साथ गहरा नाता होने की जानकारी भी पुलिस को खुफिया विभाग को मिली है। पड़ोसी देश के नागरिकों का इस तरह सीमात इलाके मे अपना डेरा जमाना देश की सुरक्षा के दृष्टिकोण से काफी घातक सिद्ध हो सकता है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस