-मारवाड़ी युवा मंच ने अभी से ही शुरू की तैयारी

-सेवा के महाकुंभ में दैनिक जागरण भी सहयोगी

जागरण संवाददाता,सिलीगुड़ी:यदि हम बात करें स्वयंसेवी संगठनों की तो अखिल भारतीय मारवाड़ी युवा मंच भारत में सबसे बड़े स्वयंसेवी संगठनों में से एक है। वर्ष 1977 में जब इसकी स्थापना हुई तो मंच का प्राथमिक लक्ष्य युवाओं को अपने समुदाय ओर देश विकास में अपना योगदान देना था।

उस समय समय की माग थी कि पूरे विश्व के मारवाड़ी सभी एक बैनर में आकर अपनी एक नई पहचान बनाएं। तब से लेकर अब तक संगठन ने समाज सेवा की दिशा में कई कार्य किए हैं। सिलीगुड़ी में भी सेवा के लगातार काम किए जा रहे हैं। बताया गया है कि 12 अक्टूबर 1985 को सिलीगुड़ी शाखा की स्थापना संस्थापक अध्यक्ष ओम प्रकाशअग्रवाल के नेतृत्व में हुआ। उस समय लगा एक छोटा सा वृक्ष विशाल अकार ले चुका है। सेवा के कार्य लगातार किए जा रहे हैं। आने वाले नवरात्रा पर एक दिन में सेवा के नौ कार्य किए जाएंगे। इसकी तैयारियां अभी से ही शुरू कर दी गई है। दौनिक जागरण कार्यालय में संगठन के पदाधिकारियों ने एक एक विशेष भेंट में बताया कि नवरात्रा पर क्तदान शिविर,मेडिकल चेकअप शिविर,फूड फॉर आल,व्हीलचेयर वितरण,सिलाई मसीन वितरण,बच्चों के बीच स्टेशनरी वितरण,बुजुगरें के बीच वाकिंग स्टिक,महिलाओं के बीच सेनिटरी पेड का वितरण के अलावा,ऑर्गन डोनेशन जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। दैनिक जागरण सेवा के इस महाकुंभ में सहयोगी की भूमिका में है। ये कार्यक्रम 26 सितंबर को होंगे।

गाइसल ट्रेन दुर्घटना के समय डेढ़ घंटे के दौरान प्रभावितों का सेवा दी गई। कोरोना काल में भी सेवा के कार्य किए गए। 17 सौ से अधिक भोजन की थालियां बांटी गई। सिलीगुडी शाखा ने तीनबत्ती स्थित कोविड केयर सेंटर में लगातार 1 महीने तक कोरोना मरीजों, चिकित्सक टीम ओर वोलेंटियर्स के लिए पूरे दिन के हिसाब से भोजन की व्यवस्था की।

-मनोज अग्रवाल,अध्यक्ष प्राकृतिक आपदाओं के समय भी सिलीगुड़ी शाखा ने अपनी बेहरीन सेवा दी है। चाहे वह केरल में जाकर बाढ़ पीड़ितो की सेवा हो या जम्मू कश्मीर में जाकर बाढ़ पीड़ितों की सेवा।

नेपाल के काठमाडु में जाकर भूकंप पीड़ितों की सेवा की गई।

-विक्रम गोयल,कोषाध्यक्ष कोरोना की दूसरी लहर ने जब कहर बरपाया तब सिलीगुडी शाखा ने समाज के उन परिवारों के लिए सेवा का हाथ बढ़ाया जो संक्रमित हो गए थे। ऐसे लोग या परिवार जिनके पास संक्रमण के कारण अपनो ने ही दूरिया बना ली थी उस समय सिलीगुडी शाखा ने लगातार निशुल्क तीनों समय के भोजन की व्यवस्था की ओर वो भोजन उन्हें अपने घर पर ही प्राप्त करवाया, उसके लिए उन्हें कही जाना नही पड़ा।

- मनीष बजाज,सदस्य कोराना के समय हमारी शाखा द्वारा 300 लोगों को ब्लड की व्यवस्था करवा कर दी गई। उस समय हमने संकल्प लिया कि हम हर माह रक्तदान शिविर लगाएंगे ताकि रक्त की कमी के कारण किसी को नुकसान न हो। प्रत्येक माह जरूरतमंद के लिए हमारा व्हीलचेयर वितरण कार्यक्रम चल रहा है।

-आशु अग्रवाल,सचिव इस वर्ष राखी उत्सव के दिन से हमने एक संकल्प लिया सिलाई मशीन वितरण का । आज हमारे समाज की महिलाएं समाज में स्वावलम्बी होकर जी सकें इसके लिए यह मुहिम चलाई है। कोरोना की वैक्सीन भी लगातार दी जा रही है। 1340 लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी गई है।

-गणेश जिंदल,संयोजक रक्तदान के लिए जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। फाराबाड़ी नेपाली बस्ती में लोगों को जागरूक किया जा रहा है। चित्रांकन प्रतियोगिता के जरिए भी लोगों को रक्तदान के लिए प्रेरित किया जा रहा है। उस दिन एक सौ यूनिट रक्त जुटाने का टार्गेट रखा गया है। अंगदान-देहदान जागरूकता अभियान पर भी जोर दिया जा रहा है।

-प्रणय गोयल,सदस्य

Edited By: Jagran