-नॉर्थ बंगाल क्रिश्चियन वेलफेयर सोसायटी के बैनर तले थमा तृणमूल कांग्रेस का दामन जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : महकमा के माटीगाड़ा, नक्सलबाड़ी, खोरीबाड़ी और फांसीदेवा, चारों प्रखंड क्षेत्रों से ईसाई समुदाय के लगभग 2000 लोगों ने रविवार को नॉर्थ बंगाल क्रिश्चियन वेलफेयर सोसायटी के बैनर तले तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया। इसे लेकर बागडोगरा के हरेकृष्ण पल्ली इलाके में एक समारोह आयोजित हुआ। इसमें तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण एवं मदरसा शिक्षा विभाग के मंत्री गुलाम रब्बानी, उत्तर बंग उन्नयन विभाग की राज्यमंत्री सबीना यास्मीन, राज्यसभा सांसद शांता छेत्री, दार्जिलिंग जिला (समतल) तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्षा पापिया घोष, चेयरमैन अलोक चक्रवर्ती, दार्जिलिंग जिला (समतल) महिला तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्षा ज्योति तिर्की, युवा तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष कुंतल रॉय व तृणमूल छात्र परिषद के अध्यक्ष निर्णय रॉय आदि ने दलीय झंडा थमा कर सभी नवागंतुकों का तृणमूल कांग्रेस में स्वागत किया। नॉर्थ बंगाल क्रिश्चियन वेलफेयर सोसायटी के मुख्य संगठक संतोष वर्गीज और उपाध्यक्ष राजेश लाकड़ा के नेतृत्व में ईसाई समुदाय के 2000 लोगों ने तृणमूल कांग्रेस का दामन थामा।

इस अवसर पर तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम रब्बानी ने कहा कि भाजपा की घृणित सांप्रदायिक राजनीति की असलियत अब लोग अच्छी तरह से समझ चुके हैं। वहीं, हमारी मां-माटी-मानुष की नेत्री ममता बनर्जी के आदर्शो और उनके द्वारा राज्य में किए गए बेनजीर विकास कार्यो को भी लोग देख रहे हैं। एक ओर भाजपा का विनाश है तो दूसरी ओर तृणमूल कांग्रेस का विकास है, और कोई भी, जरा सा भी बुद्धिसंपन्न व्यक्ति विनाश की जगह विकास को ही चुनेगा। यही वजह है कि हमारी नेत्री ममता बनर्जी व उनके कार्यो से प्रेरित हो कर आए दिन विभिन्न दलों व मतों के लोग तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम रहे हैं। यह सिलसिला चलता रहेगा।

इस अवसर पर उक्त ज्वाइनिंग के संयोजक व दार्जिलिंग जिला (समतल) तृणमूल कांग्रेस चेयरमैन अलोक चक्रवर्ती ने कहा कि अभी भी विभिन्न दलों के और भी अनेक नेता, कार्यकर्ता व समर्थक हमारे संपर्क में हैं। अभी अनेक लोग तृणमूल कांग्रेस में शामिल होंगे। इस अवसर पर तृणमूल कांग्रेस के अन्य कई नेता व कार्यकर्ता-समर्थक मौजूद रहे।

Edited By: Jagran