जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी। सात वर्ष बाद एक बार फिर सितंबर में भूकंप से धरती कांपी है। बुधवार की सुबह 10.22 बजे आए भूकंप की तीव्रता 5.5 मापी गई है। इसका केंद्र असम का कोकराझाड़ था।

भूकंप आने के बाद सिलीगुड़ी में स्कूलों में छुंट्टी कर दी गई। भूकंप के झटके महसूस होने के दौरान मची अफरातफरी के बीच घर की छत से उतरते समय सीढ़ी से गिर जाने के कारण सम्राट दास (22) की मौत भी हो गई।

यह घटना सिलीगुड़ी में शांतिनगर इलाके में हुई। सिलीगुड़ी, नक्सलबाड़ी, बागडोगरा, फांसीदेवा, मातिगाड़ा, पडोसी राज्य सिक्किम, मालदा, जलपाईगुड़ी, कूचबिहार, दार्जिलिंग, जयगाव, रायगंज, इस्लामपुर, कलिंगपोंग, अलीपुरद्वार समेत बिहार सीमात में इसे महसूस किया गया है।

भूकंप के झटके 10.20 मिनट पर आए। 33 सेकेंड तक लगातार दो बार जोर के झटके महसूस किए गए। हालांकि कहीं से कोई नुकसान की खबर नहीं है।

लोग दहशत में घर से बाहर निकल गए। बता दें कि 18 सितंबर 2011 को आए तेज भूकंप में सिलीगुड़ी में काफी नुकसान हुआ था। उसे लोग आजतक नहीं भूल पाए हैं।