सिलीगुड़ी, जागरण संवाददाता। कोरोना वायरस महामारी के बीच बहु-प्रतिक्षित कोरोना वैक्सीन बुधवार-गुरुवार की देर रात दार्जीलिंग जिले में पहुंच गई है। जिला प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार वैक्सीन रात करीब 1:00 बजे के लगभग उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में स्वास्थ्य विभाग के वाहन से पहुंची। वैक्सीन की सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं। मेडिकल अस्पताल से ही वैक्सीन को कड़ी सुरक्षा के बीच विभिन्न केंद्रों पर भेजा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार वैक्सीन बुधवार को ही पहुंचने वाली थी, लेकिन अपरिहार्य कारणों से पहुंच नहीं पाई।

वैक्सीन को उत्तर बंगाल के अन्य जिलों में भी भेजा गया है। दिल्ली से कोरोना वैक्सीन की खेप मंगलवार दिन को करीब ढाई बजे कोलकाता पहुंची थी। उसके बाद सड़क मार्ग से वैक्सीन को जिलों के लिए रवाना कर दिया गया। जबकि सिलीगुड़ी के लिए वैक्सीन ट्रेन से भेजी गई है। पूरे देश में इस महीने की 16 तारीख से कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी। पहले चरण में कोरोना योद्धाओं यानी डॉक्टरों,नर्सो एवं स्वास्थ्य कर्मचारियों को वैक्सीन देने का निर्णय लिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार पहले चरण में सिलीगुड़ी सहित पूरे उत्तर बंगाल में 1 लाख 28 हजार लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। लेकिन अभी लगभग दस हजार लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। हर एक जिले में 3 से अधिक केंद्र बनाए जा रहे हैं। दाíजलिंग जिले में भी सिलीगुड़ी के साथ-साथ अन्य स्थानों पर टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। इसके लिए सफल ड्राइ रन पहले ही हो चुका है। राज्य सरकार द्वारा कोरोना वायरस महामारी के लिए उत्तर बंगाल में नियुक्त ओएसडी डॉ सुशांत राय राय ने बताया कि 16 तारीख से टीकाकरण शुरू हो जाएगा। पहले ही कह दिया गया है कि सभी लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। किसी को परेशान होने की आवश्यकता नहीं है।

बताया गया कि दार्जिलिंग जिले में कोरोना वैक्सीन के 18000 खुराक भेजे गए हैं। इनमें 15997 लोगों को दिए जाने की लिस्ट तैयार की गई है। पहले दिन कुल सात केंद्रों से 11 सौ लोगों को टीका दिया जाएगा। बताया कि उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में पांच सौ लोगों को पहले दिन कोरोना वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा गया है, जबकि अन्य केंद्रों पर 100-100 लोगों को वैक्सीन दिया जाएगा।

कहां-कहां होगा टीकाकरण

1. उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल, 2.सिलीगुड़ी जिला अस्पताल, 3. नक्सलबाड़ी ब्लॉक अस्पताल, 4. फांसीदेवा ब्लॉक अस्पताल, 5. खोरीबारी ब्लॉक अस्पताल, 6. दार्जिलिंग जिला अस्पताल, 7.कर्सियांग महकमा अस्पताल।

पहले किसे लगेगा वैक्सीन

यह तय कर लिया गया है कि सबसे पहले फ्रंट लाईन हेल्थ वर्कर्स को ही वैक्सीन दी जाएगी। उसमें सरकारी व प्राइवेट डॉक्टर, नर्स व अन्य स्वास्थ्यकर्मी शामिल होंगे। दार्जिलिंग जिला के लिए उनकी लिस्ट भी तैयार हो चुकी है। ऐसे लगभग 15997 हजार लोग हैं। उन सभी का डाटा तैयार कर लिया गया है। सॉफ्टवेयर में अपलोड भी कर दिया गया है। राज्य स्तर पर उच्चाधिकारियों को भेज भी दिया गया है। यह भी तय किया गया है कि प्राइमरी हेल्थ सेंटर से नीचे के सेंटरों पर वैक्सीन नहीं दी जाएगी। उससे ऊपर बेसिक हॉस्पिटल, प्रखंड अस्पताल, जिला अस्पताल व अर्बन सेंटरों में ही वैक्सीन दिए जाने की व्यवस्था की जाएगी। 

Edited By: PRITI JHA