-चार मरीजों की मौत ने बढ़ाई थोड़ी चिंता

-21 संक्रमित मरीजों ने जीती जिंदगी की जंग जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : शहर व आसपास के क्षेत्रों में पिछले महीने के अंतिम दो दिन जिस तरह कोरोना के 50 से कम मामले सामने आ रहे थे, इसका सिलसिला अगस्त महीने में लगातार जारी है। हालांकि पिछले तीन दिनों की अपेक्षा बुधवार को कुछ ज्यादा मामले सामने आए। फिर भी यह संख्या पचास से कम ही है। जिला प्रशासन द्वारा मिले आकड़ों के मुताबिक बुधवार को सिलीगुड़ी और आसपास के क्षेत्रों में कोरोना वायरस के 46 मामले सामने आए। इनमें सिलीगुड़ी नगर निगम क्षेत्र में 25 मामले सामने आए हैं। जबकि सिलीगुड़ी महकमा के माटीगाड़ा प्रखंड में सात, नक्सलबाड़ी प्रखंड में आठ, फांसीदेवा प्रखंड में छह तथा सिलीगुड़ी से सटे सुकना में कोरोना के तीन मामले सामने आए हैं। इस तरह से पिछले तीन दिनों में सिलीगुड़ी व आसपास के क्षेत्रों में कोरोना के 151 मामले सामने आ चुके हैं। हांलाकि थोड़ी चिंता की बात यह है कि पिछले चौबीस घंटे के दौरान चार मरीजों की मौत भी हुई है। वहीं बुधवार को 21 मरीजों ने कोरोना से जंग भी जीत ली है। यह सबसे बड़ी राहत वाली खबर है।

इस बीच,कोरोना वायरस के मामलों में पिछले महीने से हो रही कमी के साथ ही इस अगस्त महीने तीन दिन में सिर्फ एक मरीज की मौत होने का मामला सामने आया था, वहीं बुधवार को कोरोना संक्रमित चार मरीजों की मौत से स्वास्थ्य विभाग व मरीजों के परिजनों की चिंता बढ़ गई है। बुधवार को उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में कोरोना संक्रमित चार मरीजों के मौत होने का मामला सामने आया है। इस तरह से पिछले चार दिनों में पांच मरीजों की मौत हो चुकी है।

वहीं पिछले महीने जुलाई की बात करें तो जून महीने में सिलीगुड़ी व आसपास के क्षेत्रों में 16 सौ से ज्यादा मामले दर्ज किए थे। 50 मरीजों की मौत कोरोना के संक्रमण से हुई थी। हालांकि मई महीने में कोरोना ने नए संक्रमण व मौत के मामलों में अपना सारा रिकार्ड तोड़ दिया था। मई महीने में सिलीगुड़ी व आसपास के क्षेत्रों में कोरोना वायरस के लगभग 15 हजार मामले सामने आए थे। जबकि 338 मरीजों की मौत कोरोना के संक्रमण से हुई थी।

Edited By: Jagran