-नकुलदाना व बताशा बांट कर लोगों का मुंह मीठा कराया

- घोटाले को लेकर तृणमूल सरकार पर एसएफआइ ने बोला हमला

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के प्रभावशाली तृणमूल कांग्रेस नेता अनुब्रत मंडल की मवेशी तस्करी मामले में सीबीआइ द्वारा गिरफ्तारी पर माकपा समर्थित छात्र संगठन एसएफआई ने खुशी का इजहार किया है। उनका यह खुशी का इजहार केवल शब्दों तक ही सीमित नहीं रही बल्कि एसएफआई सदस्यों व समर्थकों ने हिलाकर्ट रोड व हाशमी चौक पर आते-जाते लोगों के बीच नकुलदाना व बताशा बांट कर लोगों का मुंह मीठा कराते हुए अपनी खुशी का इजहार किया।

इस बारे में एसएफआइ की दार्जिलिंग जिला कमेटी के सचिव अंकित दे ने कहा कि, यह बड़ी खुशी की बात है कि एक के बाद एक घोटाले पर घोटाला कर राज्य को लूटने वालों के विरुद्ध अब कार्रवाई हो रही है। इसकी खुशी तो सबको होनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि वर्ष 2011 में जब से राज्य में तृणमूल कांग्रेस की सरकार आइ है तब से घोटाला पर घोटाला ही हो रहा है। पहले सारधा, नारदा घोटाला हुआ, फिर टीईटी घोटाला हुआ और अब एसएससी घोटाला सबके सामने है। वहीं, मवेशी तस्करी, कोयला तस्करी जैसे कई गंभीर अपराध में भी सत्तारूढ़ दल के प्रभावशाली नेताओं व मंत्रियों के संलिप्त होने की खबर है। यह सिलसिला कहां जा कर थमेगा? थमेगा भी या नहीं? ऐसे अपराधों को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। ऐसा घोर पाप करने वाले केवल एक नहीं बल्कि समस्त पापियों को गिरफ्तार किया जाए व कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। इन मांगों पर अविलंब अमल नहीं होने पर उन्होंने एसएफआइ की ओर से आगामी दिनों और जोरदार आंदोलन की चेतावनी दी है।

Edited By: Jagran