राज्य ब्यूरो, कोलकाता: बंगाल के हुगली ज़िले के पुरसुरा विधानसभा क्षेत्र के आरामबाग स्थित हरिनखोला गांव में इलाका दखल को लेकर बुधवार को सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के दो गुट आपस में भिड़ गए। दोनों गुटों के बीच हुई बमबाजी में एक तृणमूल कर्मी की मौत हो गई जबकि इस संघर्ष में चार तृणमूल कर्मी जख्मी हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के सिलसिले में पुलिस ने अबतक चार लोगों को गिरफ्तार किया है। घटना से इलाके में भारी तनाव का माहौल है। इसके मद्देनजर हुगली ग्रामीण पुलिस ने हरिनखोला गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात रखा है। जिला तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष दिलीप यादव ने कहा कि पुरसुरा में हुई घटना में हमारे पार्टी का एक कर्मी शेख चन्दन मारा गया है। इस प्रकार की हिंसक घटना क्यों हुई प्रशासनिक तथा पार्टी स्तर से इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि दोषी कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस आरोपितों की तलाश में जुटी है। 

बुधवार की सुबह हरिनखोला गांव में अचानक तृणमूल कांग्रेस के दो गुटों आपस में भीड़ गए। दोनों तरफ से की गई बमबाजी से गांव में अफरा तफरी मच गया। बम लगने से मौके पर ही शेख चन्दन की मौत हो गई जबकि इस खूनी संधर्ष में तृणमूल के चार कर्मी बुरी तरह से जख्मी हो गए। गांव वालों का कहना है कि इलाका दखल को लेकर सुबह दोनों गुटों की ओर से अंधाधुंध बम तथा गोली चलाई गई। घटना की खबर पाकर मौके पर आला अधिकारी के साथ भारी संख्या में पुलिस वाले पहुंचे और परिस्थिति को नियंत्रित किया। 

इधर, सूचना पाकर घटनास्थल पर जिला तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष दिलीप यादव भी पहुंचे और हिंसा का जायजा लिया। दिलीप यादव ने कहा कि घटना की पूरी जानकारी वे पार्टी के आला नेताओं के समक्ष रखेंगे। आपसी गुटबाज़ी के कारण ऐसी हिंसक वारदात क्यों हुई इस बारे मे उन्होंने कुछ भी बताने से इंकार किया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस