- संसद में मजबूती के साथ उठाया था गोरखालैंड का मुद्दा

- विदेश में फंसे दार्जिलिंग के लोगों की भी मदद की

-पहली पुन्यतिथि पर भाजपा नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: भाजपा की वरिष्ठ नेता व पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की पहली पुण्यतिथि पर भाजपाई गमगीन हैं। भाजपा नेता व दाíजलिंग के सासद राजू बिष्ट ने कहा की पहली पुण्यतिथि पर आज पूरा दार्जिलिंग उन्हें याद कर रहा है। उन्होंने जिस प्रकार गोरखालैंड के मुद्दे को सदन में मजबूती से पेश किया वह आज भी सबको याद है। उन्होंने विरोधियों की बोलती बंद कर दी थी। आदोलन का सम्मान देने की वकालत की थी। उनके असामयिक और दुर्भाग्यपूर्ण निधन से कई लोग दुखी हुए। उन्होंने निस्वार्थ भाव से भारत की सेवा की और विश्व मंच पर भारत के लिए एक मुखर आवाज बनी। जब भी कोई भारतीय विदेशों में संकट में होता था तब सबसे पहले सुषमा दीदी आगे आकर मदद के लिए तत्पर रहती थी। हमारे संसदीय क्षेत्र के भी कई लोगों ने विपदा में उन्हें याद किया और कभी निराशा हाथ नहीं लगी । जिस प्रकार एक मां अपने बच्चों की चिंता करती है वैसे ही उन्होंने विश्व भर में फैले हमारे बड़े परिवार की आखरी समय तक चिंता की। सुषमा स्वराज का व्यक्तित्व ही ऐसा था कि उनको भूल पाना आसान नहीं है। सुषमा स्वराज शब्दों की इतनी धनी थी कि विपक्ष भी उनके आगे चुप हो जाता था। भारतीय जनता पार्टी की सबसे लोकप्रिय नेताओं में एक रहीं सुषमा स्वराज की आज पहली पुण्यतिथि है। आज से ठीक एक साल पहले 6 अगस्त 2019 को उनका देहात हो गया था। एक दिन पहले ही केंद्र की बीजेपी सरकार ने जम्मू एवं कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटा दिया था, जिसपर सुषमा स्वराज ने खुशी जताई थी। उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि वह अपने जीवन में इस दिन को देखने की प्रतीक्षा कर रही थीं। आज दिवंगत नेता की पहली पुण्यतिथि पर देश उन्हें याद कर रहा है। सिलीगुड़ी में भी भाजपा की ओर से उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी गयी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस