जागरण संवाददाता,कíसयाग :

केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जीटीए की समीक्षा बैठक के संदर्भ में प्राप्त पत्र के संदर्भ में जीटीए चेयरमैन अनित थापा ने कहा कि जीटीए बंगाल सरकार अधीनस्थ प्रशासन है। जीटीए लेने वाले तो हमारे पूर्व के नेतृत्व हैं। हम तो तैयार जीटीए का संचालन करते हुए गतिमान किए हुए हैं। यदि जीटीए की समीक्षा बैठक हुई तो,बंगाल सरकार के साथ होगी।

उन्होंने कहा है कि लोगों ने आशा व्यक्त किया है कि गोरखालैंड विषय पर वार्ता बुलाई जाएगी। परंतु चुनाव के पहले इस प्रकार की बैठक बुलाना लोगों के बीच भ्रम पैदा करने के अलावे और कुछ नहीं है। सटीक तरीके से संचालित हो रहे दाíजलिंग में एक नया विश्रृंखलता की श्रृष्टि करने वाला है यह पत्र।

यदि बैठक हुई तो,बंगाल सरकार के साथ होगी। कारण फंड बंगाल सरकार से प्राप्त होता है। केंद्र से प्राप्त होने वाला फंड तो हमें देखने को भी नहीं मिला। मुझे राज्य सरकार की दिशा -निर्देश पर कार्य करना होगा। मैं विगत दिनों में की गई गलतियों को दोहराना नहीं चाहता। मैं भी नहीं झुकूंगा व मुझ जैसा सोंच रखने वालों को भी झुकने नहीं दूंगा।मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जीटीए क्षेत्र को एक कोविड अस्पताल भी दिया। विगत दो वर्ष से जीटीए क्षेत्र में काफी विकास हो रहा है। भाजपा की ओर से बुलाई गई त्रिपक्षीय वार्ता में मैं कई बार गया। मुझे सबकुछ पता है कि वार्ता में क्या होता है। यहा तक कि हमारी कागजात तक देखना नहीं चाहते हैं। यदि भाजपा द्वारा गोरखालैंड के लिए बैठक बुलाया तो,मैं जाऊंगा।

दाíजलिंग के सासद राजू बिष्ट के संदर्भ में उन्होंने कहा है कि राजू बिष्ट ने गोरखालैंड के नाम पर वोट मागने का कार्य किया था। जितने के बाद वे स्थायी राजनीतिक समाधान की बात करते हैं।

उन्होंने आरोप लगाया है कि गोजमुमो पार्टी का विभाजन करने वाली भाजपा है। हम अपने से विभाजित नहीं हुए हैं। भाजपा ने हमारी जाति को पहले से ही तोड़ने का कार्य किया है।

जीटीए चेयरमैन अनित थापा ने गोरामुमो नेता अजय एडवर्ड, सासद राजू विष्ट व रोशन गिरि आदि द्वारा जारी किये गये कई तथ्यों के हवाले से कहा है कि गोरखालैंड के लिए बौद्धिक व्यक्तित्वों को अग्रसर होना आवश्यक है। महेन्द्र लामा व त्रिलोक देवान जैसे बौद्धिक व्यक्तित्वों को अग्रसर होना होगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस