-सब्जी बाजार, खाद्यान्न सामग्री व दवा दुकानें खुली रही

-सड़कें सुनसान,वाहनों की आवाजाही बंद

-कुछ स्थानों पर लॉकडाउन का उल्लंघन भी

- लोगों को पुलिस ने लाठी से दिखाया घरों का रास्ता

-जगह सड़क पर ही गुजर-बसर करने को मजबूर बेसहारा लोगों की मदद करती भी नजर आई पुलिस

-फुटपाथ वासियों को मुहैया कराया भोजन-पानी, सामाजिक संस्थाओं ने भी की बेसहारों की मदद

-सिलीगुड़ी जर्नलिस्ट्स क्लब के पत्रकारों ने भी बेसहारों की भोजन-पानी से की मदद जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: कोरोना वायरस के जानलेवा संक्रमण के खौफ के साए में जारी इंडिया लॉकडाउन के तीसरे व बंगाल लॉकडाउन के चौथे दिन गुरुवार को देश व राज्य की तरह सिलीगुड़ी भी पूरी तरह थमा रहा। शहर एकदम लॉक व शहरवासी अपने-अपने घरों में कैद डाउन से रहे। इस दिन भी नजारा गुजरे दो-तीन दिनों जैसा ही रहा। कुछेक सब्जी बाजार व गली-मुहल्लों में कुछेक किराना और दवा दुकानों को छोड़ दें तो शहर के सबसे व्यस्ततम हिलकार्ट रोड, बिधान रोड, सेवक रोड, बर्दवान रोड, एस.एफ. रोड, एनजेपी स्टेशन रोड व अन्य प्रमुख इलाके सूनसान रहे। सब्जी, फल, दूध, मास-मछली व खाद्यान्न एवं दवा आदि बुनियादी जरूरतों की दुकानें ही खुली रहीं,जहा जरूरतमंद खरीदार लोगों का आना-जाना लगा रहा। इस दौरान कुछेक जगह बिना जरूरत भी कुछ कुछ लोग सड़कों पर नजर आए जिससे पुलिस सख्ती से निपटी। लाठी से पीट-पीट कर उन्हें घर का रास्ता दिखाया। शहर में इस दिन भी अन्य सारी दुकानें, प्रतिष्ठान व संस्थान बंद रहे। सड़कों पर वाहनों की आवाजाही एकदम न के बराबर रही। सुबह-सुबह कुछ देर के लिए लगभग हर इलाके में लोगों की थोड़ी चहल-पहल हुई भी तो पुलिस व रैपिड एक्शन फोर्स (रैफ) के जवानों के सड़क पर उतर कर मोर्चा संभालते ही सब अपने-अपने घरों में दुबक गए। लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को खदेड़ा तब लोगों ने भाग कर घरों में पनाह ली। शहर के हाशमी चौक, बिधान मार्केट, पानीटंकी मोड़, सेवक मोड़, एयर व्यू मोड़, सिलीगुड़ी जंक्शन मोड़, दार्जिलिंग मोड़, चंपासारी मोड़, सेवक रोड, चेक पोस्ट, सालुगाड़ा बाजार, ईस्टर्न बाइपास, बर्दवान रोड, विवेकानंद रोड, खाल पाड़ा, नया बाजार, जलपाई मोड़, तीन बत्ती मोड़ व एनजेपी आदि इलाकों में जगह-जगह प्रमुख चौराहों पर आते-जाते लोगों विशेष कर हरेक वाहन चालकों की पुलिस ने अच्छी तरह से खबर ली। केवल आपात सेवा कायरें में लगे लोगों को बख्शा, बाकी सब की अच्छी तरह धुनाई की। लॉकडाउन के उल्लंघन दूर करने में इस दिन भी पुलिस बल ने खूब पसीने बहाए।

वहीं, प्रशासन की ओर से जगह-जगह माइकिंग कर भी लोगों से लॉकडाउन को प्रभावी बनाने की अपील की गई। इसके साथ ही विभिन्न जगह सड़क पर ही गुजर-बसर करने को मजबूर बेसहारा लोगों की पुलिस ने मदद भी की। उन्हें भोजन-पानी मुहैया कराया। कई व्यक्तियों ने व्यक्तिगत रूप में तो संस्था वालों ने संस्थागत रूप में भी ऐसे नेक कार्य अंजाम दिए। सिलीगुड़ी जर्नलिस्ट्स क्लब के पत्रकारों ने भी फुटपाथ पर बेसहारों की भोजन-पानी से मदद की। बाइक सवारों का तांडव जारी,पुलिस भी परेशान

दूसरी ओर लॉकडाउन के इस माहौल में भी बाइक सवारों का तांडव जारी है। अभी भी सुबह के वक्त काफी संख्या में बाइक सवार सड़क पर निकल आते हैं। मुख्य सड़कों की पर भले ही बाइक सवारों की संख्या कम है लेकिन पाड़ा और मोहल्ले में बाइक लेकर युवा बेखौफ निकल रहे हैं। इनको ना तो पुलिस का डर है और ना ही कोरोना वायरस का। इनकी हरकतों से पुलिस वाले भी परेशान हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस