-मौके पर जाकर गहन जांच,नमूना संग्रह

-बेटे और बहू से भी की गई गहन पूछताछ

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : शहर के हाकिमपाड़ा में बीते आठ अगस्त को खून से लथपथ 84 वर्षीय वृद्धा तारालता राय का शव घर के बाहर बरामद हुआ था। शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। जांच में आगे का रास्ता मिले इसके लिए कोलकाता से फोरेंसिक टीम आई हुई है। मंगलवार को फोरेंसिक टीम के विशेषज्ञ प्रकाश मुखर्जी के नेतृत्व में एक टीम पहुंची। टीम ने जहां एक ओर वृद्धा के बेटे और बहू से से पूछताछ की वहीं घर के अंदर मिले खून के धब्बे और फिंगर प्रिंट को भी संग्रह किया। प्रकाश मुखर्जी ने मीडिया से सिर्फ इतना ही कहा कि खून के धब्बे को संग्रह किया गया है। जांच के बाद पता चल पाएगा कि इसके पीछे की सच्चाई क्या है। मालूम हो कि वृद्धा तारालता अपने बेटे और बहू के साथ तीसरी मंजिल पर रहती थी। शव पाए जाने के बाद बहू सोमा राय ने पुलिस को बताया था कि मां सुबह से ही गायब थी। काफी खोजबीन करने के बाद घर के पास उनका शव पाया गया था। शव के पास काफी खून बहा हुआ था। उसने यह भी कहा था कि घर में ऐसी कोई बात नहीं हुई जिससे उनकी सास को मौत के लिए कदम उठाना पड़े। पुलिस सभी पहलुओं पर गहन विचार विमर्श कर इस मामले को सुलझाने में लगी है।

Posted By: Jagran