संवाद सूत्र, माथाभांगा : बीएसएफ की सीमा चौकी के समीप नालगीबारी गांव में कुछ ग्रामीण लोगों को जहरीले सांप ने डस लिया। गांव वाले के पास कोई सुविधा नहीं थी कि फौरन अस्पताल जाए। ऐसी विकट परिस्थिति में 140 वी बटालियन के जवानों ने इंसानियत दिखाते हुए सर्प दंश के शिकार ग्रामीणों को माथाभांगा अस्पताल में भर्ती करवाया। सर्प दंश से कमल बर्मन और उसके पिता मंटू बर्मन शिकार हो गए थे। लेकिन ऐन मौके पर बीएसएफ के जवानों ने दोनों को बीएसएफ के वाहन से अस्पताल पहुंचाया। समादेस्टा देवेंद्र कुमार ने बताया कि हम ग्रामीणों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर है। देश, सीमा व देववासियों की सेवा व सुरक्षा प्रदान करना हमारा पहला धर्म है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस