संवादसूत्र, कूचबिहार : कूचबिहार सरकारी अस्पताल के मातृ विभाग में दो जुड़वा बच्चों में से एक बच्चे की चोरी होने की घटना सामने आई है। रविवार सुबह इस घटना को लेकर अस्पताल परिसर में उत्तेजना देखा गया। बच्चे के परिजनों का आरोप है कि गत शुक्रवार को कूचबिहार शहर के तीन नंबर वार्ड के कला बागान इलाके की एक गर्भवती महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां पर महिला ने जुड़वा बच्चे को जन्म दिया। जब परिजनों ने दोनों बच्चों को देखना चाहा, तो उनलोगों को देखने से मना कर दिया गया।

रविवार सुबह को रोगी के परिजन जब बच्चे देखने के लिए अस्पताल के मातृ विभाग में पहुंचे, तो वहां की सेविका ने कहा कि जुड़वा बच्चों में एक बच्चे की मौत हो चुकी है। यह सुनकर बच्चों के परिजन आग बगूला हो उठे। परिजनों ने बच्चे की मौत नहीं हुई, बल्कि उसकी चोरी हुई है। वही अस्पताल प्रबंधन इस बात को मानने से इंकार कर रही है।

रोगी के परिजन रिंकू महतो ने कहा कि दोनों बच्चे स्वस्थ पैदा हुए थे, लेकिन इनलोगों ने हमलोगों को देखने नहीं दिया। आज अचानक कह रहे है कि एक बच्चे की मौत हो चुकी है।

इधर इस घटना को लेकर रोगी के परिजनों की ओर से कोतवाली थाना में बच्चा चोरी होने के मामले को लेकर एक लिखित शिकायत दी गई। लेकिन खबर लिखे जाने पर थाने में यह मामला दर्ज नहीं हुआ। वही घटना की खबर मिलते ही कोतवाली थाना पुलिस मौके पर पहुंची।

कूचबिहार सरकारी मेडिकल कालेज व अस्पताल के एमएसभीपी राजीव प्रसाद ने कहा कि शनिवार को जुड़वा बच्चों के जन्म होने के बाद परिजनों को दिखाया गया था। जिसके एक ही हालत नाजूक होने के कारण उसे एसएनसीयू में रखा गया। इस दिन सुबह उसकी मौत हो गई। वही रोगी के परिजन यह बात मानने के लिए तैयार नहीं है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप