मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

-हमले के विरोध में भारतीय ट्रक चालकों ने किया अनिश्चितकाल तक ट्रक बंद करने का किया आह्वान

-भारत-बांग्लादेश का आयात-निर्यात हुआ प्रभावित, व्यवसाय ठप, माहौल गर्म

संवाद सूत्र, चेंगड़ाबांधा : बांग्लादेश भू खंड में भारतीय ट्रक चालक पर हमले के विरोध में दोनों देशों के बीच व्यापार प्रभावित दिख रहा है। गुरुवार को भारतीय ट्रक चालकों ने सामान लदी ट्रक बांग्लादेश में ले जाने से इंकार करते हुए हमले का विरोध करते हुए ट्रक हड़ताल की घोषणा की। इसे लेकर सीमावर्ती क्षेत्र चेंगड़ाबांधा में माहौल गर्म है। घायल ट्रक चालक का नाम लखिंदर सिंह है। उसे चेंगड़बांधा प्राथमिकी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया गया है। उसके शरीर के विभिन्न हिस्सों पर चोट के निशान है।

आईएनटीयूसी व मेखलीगंज ब्लॉक के सचिव जाकिर हुसैन ने बताया कि जिसतरह से भारतीय ट्रक चालक पर बांग्लादेश में हमला हुआ है, उससे हम क्षुब्ध है। इसके विरोध में ट्रक चालकों ने अनिश्चितकाल तक बांग्लादेश में सामान लेकर ट्रक चालक नहीं जाएंगे।

घायल लखिंदर सिंह ने बताया कि विगत बुधवार को मैं बांग्लादेश सामान लदा ट्रक लेकर गया था। ट्रक का सामान खाली नहीं होने के कारण मैं किनारे ट्रक लगाकर अपनी बारी का इंतजार कर रहा था। मेरा ट्रक एक गड्ढे में फंस गया था। बांग्लादेश के बुड़ीमारी बंदरगाह पर मैं रुका था। रात हो रही थी। अचानक बाइक पर बैठकर कुछ लोग आए और उन्होंने कहा कि हम आपकी सहायता करेंगे। लेकिन वें सब मेरे साथ मारपीट करने लगे। मेरा पैसा लूट कर ले गये। भारतीय ट्रक चालक आलम इस्लाम, नूर आलम आदि ने बताया कि अक्सर हमारे साथ ऐसी घटना होती है। इस समस्या को लेकर गुरुवार को दोनों देश के बीएसएफ व बीजीबी जवान, दोनों देशों के पुलिस व आबकारी विभाग ने विशेष बैठक भी की। बांग्लादेश की ओर से सुरक्षा को लेकर आश्वासन दिया गया है।

चेंगड़ाबांधा के आबाकारी विभाग के अधीक्षक कपिल बाइन ने बताया कि भारतीय ट्रक चालक पर बांग्लादेश में हमले को लेकर सभी महकमा चिंतित है। इसे लेकर हमने बांग्लादेश के आबकारी विभाग आदि अधिकारियों से बात की है। इसे लेकर बांग्लादेश प्रशासन कठोर कार्रवाई करेगी, इसका हमें आश्वासन दिया गया है। घटना के संबंध में चेंगड़ाबांधा एक्सपोटर्स एसोसिएशन के सचिव विमल कुमार घोष ने बताया कि यह निंदनीय घटना है, हम इसका विरोध करते है।

कैप्शन : घायल ट्रक चालक लखिंदर सिंह

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप