संवाद सहयोगी, बर्नपुर : हीरापुर थाना अंतर्गत इस्पात नगरी बर्नपुर में मंगलवार की शाम इलाके के दबंग ठेकेदार इम्तियाज आलम के समाजसेवी पिता हाजी फरीद आलम 70 की अज्ञात हत्यारों ने गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना को लेकर इलाका में भारी तनाव व्याप्त है। तनाव को देखते हुए पूरे इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

हाजी फरीद आलम नियमित रूप से शाम को टहलते थे। मंगलवार की संध्या करीब साढ़े छह बजे वह धर्मपुर स्थित निवास स्थल से अकेले ही टहलने निकले थे। करीब सात बजे वह आइएसपी दस नंबर गेट के निकट से गुजर रहे थे। उसी दौरान अज्ञात हत्यारों ने काफी निकट से उन्हें निशाना बनाते हुए ठीक सामने से गोलियां चलानी शुरू कर दी। उनके सिर और और पेट में एक-एक गोली लगी है। अनुमान लगाया जा रहा है कि हत्यारे दो से तीन की संख्या में आये थे। गोली लगने से घायल हाजी फरीद वहीं गिर पड़े। उन्हें सड़क पर लहूलुहान पड़ा देखकर किसी ने शोर मचाया इसके बाद आनन- फानन में उन्हें बर्नपुर स्थित इस्को अस्पताल स्थित आइएसयू में ले जाया गया। लेकिन चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

सूचना पाकर मेयर जितेंद्र तिवारी, पूर्व विधायक सोहराब अली समेत हजारों की संख्या में लोग अस्पताल पहुंच गये है। अस्पताल के बाहर हजारों लोगों की भीड़ लगी हुई है। अस्पताल से लेकर धर्मपुर तक काफी तनावपूर्ण माहौल देखते हुए कई थानों की पुलिस को तैनात किया गया है। बताया जाता है कि फरीद आलम के बड़े पुत्र इम्तियाज कोलकाता गए थे। सूचना पाकर वह वापस लौट रहे है। मेयर ने कहा कि पुलिस जल्द से जल्द अपराधियों को गिरफ्तार करे।

Posted By: Jagran