संवाद सूत्र, धेमोमेन : ईसीएल सोदपुर क्षेत्र के मिठानी कोलियरी प्रांगण में रविवार को इंटक से संबद्ध कोलियरी मजदूर यूनियन ने कांफ्रेंस का आयोजन कर कोलियरियों को बंद करने पर विरोध जताया। कोलियरी मजदूर यूनियन के कार्यकारी अध्यक्ष पजय मसीह ने कहा कि ईसीएल प्रबंधन सोदपुर की छह कोलियरियों समेत 16 कोलियरियों को बंद करने की साजिश रच रही है, इसका हमलोग जोरदार विरोध करते है। कहा कि कोयला रहते किसी भी कोलियरी को बंद नहीं होने दिया जाएगा।

चिनाकुड़ी कोलियरी पिछले 2 वर्षो से बंद है, उसे तत्काल चालू करना होगा। हाउस रेंट एलाउंस अधिकारियो को 16 प्रतिशत और कर्मचारियों को 8 प्रतिश्त देने का सौतेला व्यवहार बंद करना होगा। कर्मचारियों को भी 16 प्रतिशत हाउस रेंट देना होगा। श्रमिकों की मृत्यु से संबंधित मामला तीन माह के भीतर निपटाना होगा।

अन्य वक्ताओं ने भी प्रबंधन पर कर्मचारियों से सौतेला व्यवहार का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रबंधन कोलियरियां बंद कर निजी हाथों में सौंपने की साजिश रच रही है।

मौके पर वरीय उपाध्यक्ष बीएस पांडेय, कार्यकारी अध्यक्ष पजय मसीह, आरपी शर्मा, कोषाध्यक्ष तरुण गांगुली, सहायक सचिव गणेश राय, संयुक्त सचिव योगेश पति त्रिपाठी, जितेन्द्र ¨सह, संगम ¨सह, राजेंद्र जैस्वारा, नव कुमार बाउरी, मो. सत्तर भाई सुकांतो दास, आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran