जागरण संवाददाता, आसनसोल : आसनसोल में रविवार को आसनसोल जिला कोर्ट के उद्घाटन के साथ ही जिला गठन के बाद जिला कोर्ट की दशकों पुरानी मांग पूरी हुई। जिला कोर्ट को लेकर लंबे समय से जारी आंदोलन को मुकाम मिलने से अधिवक्ताओं में खुशी की लहर है। वहीं जिला कोर्ट बन जाने से अब यहां की जनता को भी काफी सुविधा होगी। जिला कोर्ट उद्घाटन समारोह में स्वागत भाषण देते हुए राज्य के श्रम, कानून व पीएचई मंत्री मलय घटक ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा न्यायिक व्यवस्था को बेहतर बनाने तथा संसाधनों को बेहतर बनाने के लिए विभिन्न स्तर से प्रयास किया जा रहा है। कलकत्ता हाईकोर्ट के बाद आसनसोल जिला कोर्ट राज्य के बड़े कोर्ट में से एक है। न्यायिक सेवा के क्षेत्र में आसनसोल के लोग नक्षत्र के रूप में पूरे देश में चमक रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से राज्य के विभिन्न कोर्ट के विकास के लिए काम किया जा रहा है। इसके कारण हर सप्ताह कहीं कोर्ट भवन का उद्घाटन तो कहीं शिलान्यास हो रहा है। 12 सितंबर को न्यूटाउन राजारहाट में कलकत्ता हाई कोर्ट के नये भवन का शिलान्यास किया जाएगा। जलपाईगुड़ी में सर्किट बेंच चालू करने की दिशा में भी कार्य लगभग पूरा हो चुका है। इसकी अधिसूचना जारी होते ही जल्द ही सर्किट बेंच चालू कर दिया जाएगा।

......

जिला कोर्ट के दायरे में 16 थाना क्षेत्र

हाई कोर्ट के मुख्य न्यायधीश ज्योतिर्मय भट्टाचार्य ने कहा कि आसनसोल जिला कोर्ट के दायरे में आसनसोल एवं दुर्गापुर महकमा के 16 थाना क्षेत्र आएंगे। आसनसोल सदर महकमा के आसनसोल दक्षिण, आसनसोल उत्तर, चितरंजन, सालानपुर, जामुड़िया, रानीगंज, बाराबनी, कुल्टी तथा हीरापुर एवं दुर्गापुर महकमा के पांडेश्वर, फरीदपुर, दुर्गापुर, न्यूटाउनशिप, कोकोवेन, अंडाल तथा कांकसा थाना शामिल है। इसके अलावा 8 ब्लाक, 2 नगर निगम तथा 62 ग्राम पंचायत के क्षेत्र आएंगे।

....

स्थायी जिला जज एवं पोक्सो कोर्ट जल्द

उन्होंने कहा कि ब‌र्द्धमान की जिला जज केडी भूटिया को आसनसोल जिला जज का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। वह प्रत्येक सप्ताह के मंगलवार एवं शुक्रवार को आसनसोल जिला कोर्ट में आएंगी। आशा है कि एक से दो सप्ताह में आसनसोल को स्थायी जिला जज मिल जायेगा। इसके साथ ही पोक्सो कोर्ट एवं चाइल्ड फ्रेंडली कोर्ट भी जल्द शुरू होगा।

इस अवसर पर न्यायिक अधिकारी शोभन कुमार मुखर्जी, मनोज कुमार राय, साकेत कुमार झा, नियाज आलम, राजेन्द्र डूडेजा, न्यायिक विभाग के संयुक्त सचिव अखिलेश पांडेय, एलआर आरती शर्मा, डीएम शशांक सेठी, पुलिस आयुक्त लक्ष्मी नारायण मीणा, आरपीएफ के वरिष्ठ सुरक्षा आयुक्त डॉ. एएन झा, उपमेयर तबस्सुम आरा, चेयरमैन अमरनाथ चटर्जी, मेयर परिषद सदस्य अभिजीत घटक, मीर हासिम, लखन ठाकुर, पार्षद दीपा चक्रवर्ती, उमा सर्राफ, श्रावणी मंडल, विवेक बनर्जी, टीएमसी लीगल सेल के जिलाध्यक्ष सुब्रत चटर्जी बुलु दा, नवनीता बनर्जी, सुदेषणा घटक, महुआ घटक, नरेश अग्रवाल, टीएमसी नेता शंकर चक्रवर्ती, बैजनाथ ¨सह समेत सैकड़ों की संख्या में अधिवक्ता मौजूद थे।

Posted By: Jagran