जागरण संवाददाता, आसनसोल : वैक्सीन कांड के बाद आसनसोल नगरनिगम की बोर्ड सदस्य तबस्सुम आरा को नगरनिगम में वापस आने की अनुमति दिये जाने के विरोध में कांग्रेस द्वारा मंगलवार को निगम मुख्यालय में प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने तबस्सुम आरा के कक्ष पर काला झंडा लगा दिया।

प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस प्रदेश सचिव प्रसेनजीत पुइतंडी ने कहा कि शिविर में जिस तरह से लापरवाही से पूर्व उपमेयर सह वर्तमान बोर्ड सदस्य तबस्सुम आरा ने वैक्सीन देकर एक महिला की जान से खिलवाड़ किया था। उसके खिलाफ भी हमलोगों ने प्रदर्शन किया था। तब उन्हें कुछ दिनों के लिए कार्यालय में आने से मना कर दिया गया था। अब फिर से उन्हें कार्यालय में वापस लाया जा रहा है। जिसका वह लोग विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन पर सरकारी वाहन के दुरुपयोग से लेकर अन्य आरोप भी हैं। जनता के टैक्स के पैसे को ऐसे बर्बाद करने के बजाय नगरनिगम का चुनाव कराया जाये। जनता जिसे जनप्रतिनिधि के रूप में चुनेगी। उसे दायित्व दिया जाये। इस दौरान कांग्रेस नेता शाह आलम, मो. शाकिर, काजल बनर्जी आदि मौजूद थे।

तबस्सुम आरा को दी गई हिदायत :

प्रशासक बोर्ड चेयरपर्सन अमरनाथ चटर्जी ने कहा कि चूंकि अभी चुनाव नहीं हुए है, इसलिए अन्य किसी को बोर्ड में रखा नही जा सकता है । 106 वार्डों की देखरेख के लिए सबके सहयोग की जरूरत है । इसलिए उन्हें बोर्ड में फिर से रखा गया है । उन्होंने बताया कि तब्बसुम आरा को उनकी गलती की सजा दी गई है और भविष्य में ऐसी गलती न करने और अपने अधिकार क्षेत्र में रहकर काम करने की हिदायत भी दी गई है।

चेयरपर्सन को दे दिया जवाब : इस संबंध में तबस्सुम आरा ने कहा कि आधिकारिक तौर पर वैक्सीन विवाद को लेकर जो भी जवाब देना था। वह चेयरपर्सन को दे चुकी हैं। वहीं इसे लेकर जो कहना वह चेयरपर्सन कहेंगे। उन्होंने कहा कि अगर कोई सरकारी कार्यालय में अमर्यादित ढंग से गतिविधि कर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाते हैं, तो उनपर कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए।

Edited By: Jagran