कुनो नेशनल पार्क में चीतों को छोड़ते समय PM Modi का दिखा अलग अंदाज, देखें तस्वीर


By Achyut Kumarjagran.com

75 साल बाद चीतों की वापसी

भारत में 75 साल बाद चीतों की वापसी हो रही है। पीएम मोदी ने 17 सितंबर की सुबह इन्हें कुनो नेशनल पार्क में छोड़ा। इस दौरान मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहे।

मेहमान बनकर आए हैं चीते- मोदी

पीएम मोदी ने चीतों को कुनो नेशनल पार्क में छोड़ने के बाद कहा कि ये चीते मेहमान बनकर आए हैं और इस क्षेत्र से अजान हैं। ये चीते इसे अपना घर बना पाएं, इसके लिए हमें इन्हें कुछ महीने का समय देना होगा।

दशकों तक कोई सार्थक प्रयास नहीं हुआ- मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि यह दुर्भाग्य रहा कि 1952 में चीतों को देश से विलुप्त घोषित कर दिया गया था, लेकिन उनके पुनर्वास के लिए दशकों तक कोई सार्थक प्रयास नहीं हुआ।

चीतों के पुनर्वास के लिए जुटा भारत- मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि आज आजादी के अमृतकाल में अब देश नई ऊर्जा के साथ चीतों के पुनर्वास के लिए जुट गया है।

'प्रोजेक्ट चीता' के तहत भारत लाए गए चीते

बता दें, जो चीते लाए भारत लाए गए हैं, उनमें पांच मादा और तीन नर हैं। इन्हें प्रोजेक्ट चीता के हिस्से के रूप में भारत लाया गया है।

पीएम मोदी ने चीता मित्रों से किया संवाद

पीएम मोदी ने श्योपुर स्थित कुनो नेशनल पार्क में चीतों को छोड़ने के बाद चीता मित्रों से संवाद भी किया। इस दौरान उन्होंने चीता से जुड़ी जानकारियां उनके साथ साझा की।

फोटोग्राफी करते नजर आए पीएम मोदी

पीएम मोदी चीतों को कुनो नेशनल पार्क में छोड़ने के बाद कैमरा थामें नजर आए। उन्होंने चीतों की कुछ तस्वीरों को भी अपने कैमरे में कैद किया।