चांद की खूबसूरती किसी से छिपी नहीं है, बुधवार को दिखने वाला चांद बेहद ही अद्भुत नजर आने वाला है। नेहरू तारामंडल ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। यहां शाम छह बजे से चंद्र ग्रहण के दौरान चांद के अलग-अलग रूप का दीदार किया जा सकेगा। नेहरू तारामंडल की निदेशक डॉ. एन रत्नाश्री ने बताया कि इस दिन चंद्रमा के तीनों ही कलेवर सुपर मून, ब्लू मून और ब्लड मून एक साथ दिखाई देंगे। ऐसी घटना 35 वर्षों के बाद हो रही है। इससे पहले एशिया में वर्ष 1982 में यह घटना देखने के लिए मिली थी। 31 जनवरी को शाम करीब 5:18 बजे से यह घटना देश के विभिन्न हिस्सों में देखने को मिलेगी। नई दिल्ली में करीब छह बजे आंशिक चंद्र ग्रहण के दौरान चांद निकलेगा और तकरीबन आठ बजे तक यह नजारा देखा जा सकेगा। तारामंडल में आने वाले लोगों को स्काई थियेटर में इसके बारे में जानकारी दी जाएगी |