चांद तारे तोड़कर लाने की बात अब पुरानी हो गयी क्योंमकि नासा अब सूर्य तक आपके नाम को पहुंचा रहा है। इसके लिए नासा की ओर से पूरी दुनिया में लोगों को इनवाइट किया जा रहा है। इसके तहत अपना नाम ऑनलाइन सबमिट करना होगा जिसकी अंतिम तारीख आगामी 27 अप्रैल है। नामों को माइइक्रोचिप में डालकर गर्मियों में लांच होने वाले ऐतिहासिक सोलर प्रोब के जरिए सूर्य पर भेजा जाएगा। नासा का कहना है कि यह मिशन इस साल शुरू हो जाएगा। मई 2017 में नासा ने एस्ट्रो फिजिसिस्टे यूजीन पार्कर के सम्माेन में स्पेुसक्राफ्ट का नाम सोलर प्रोब प्लमस से बदलकर पार्कर सोलर प्रोब कर दिया था। यूएस स्पेसस एजेंसी ने मंगलवार को कहा कि 27 अप्रैल, 2018 तक सबमिशन लिए जाएंगे। स्पेससक्राफ्ट सीधा सूर्य के वातावरण में प्रवेश करेगा। इसकी कुल दूरी चार मिलियन मील के करीब है। स्पेेसक्राफ्ट की स्पी ड काफी तेज है, जो करीब 430,000 मीटर प्रति घंटे होगी।