भारत के राजस्थान राज्य की राजधानी जयपुर, जिसे गुलाबी नगरी भी कहा जाता है अपने महलों और किलों के अलावा मेले और त्योहारों के लिए काफी प्रसिद्ध है। इस गुलाबी नगरी की फागुन मस्ती देखने लायक होती है। अठारहवीं शताब्दी में राजा सवाई जयसिंह द्वितीय ने जयपुर शहर बसाने की ठानी थी। उनके ही नाम पर शहर का नाम जयपुर रखा गया। 1876 में क्वीन विक्टोरिया और प्रिंस ऑफ वेल्स के भारत दौरे के वक्त जयपुर के तत्काथलीन राजा रामसिंह ने पूरे शहर को गुलाबी रंग मे रंगवा दिया, इसके बाद पिंक सिटीके नाम से ख्याति मिल गई। पिंक सिटी में रंग-बिरंगे बाजार भी हैं जो पर्यटकों को काफी लुभाते हैं। यहां का बापू बाजार जयपुरी सामानों के लिए जाना जाता है। यहां जयपुरी कपड़ों की सारी वैराइटी मिलती है। जयपुरी जूती से लेकर जयपुरी रजाई तक इस बाजार में मिलते हैं। वहीं त्रिपोलिया बाजार में लाख से बने गहनों के अलावा चूडियों की वैरायटी की भरमार है।