दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन यानि डीएमआरसी ने मेट्रो स्टेशनों के बाहर स्थित पार्किंग की दरों को संशोधित किया है। इसके बाद मेट्रो की पार्किंग डेढ़ से दोगुना तक महंगी हो गई है। नई दरें एक मई से लागू होंगी। डीएमआरसी का कहना है कि मेट्रो की पार्किंग की दरें पांच साल से संशोधित नहीं की गई थीं। वर्तमान दरें सभी सिविक एजेंसियों की पार्किंग दरों से बहुत कम हैं। मेट्रो पार्किंग दरों को सिविक एजेंसियों की पार्किंग दरों से तर्कसंगत बनाना आवश्यक था। इसी कारण पार्किंग की दरें संशोधित की गई हैं। देखिए पार्किंग शुल्क बढ़ने के बाद क्या हैं नई दरें... मेट्रो स्टेशन पर पार्किंग शुल्क में बढ़ोत्तरी होने से लोगों की जेब पर दबाव बढ़ना तय है। खासकर वो यात्री जो स्टेशन पर अपनी गाड़ी पार्क करके मेट्रो से सफर करते रहे हैं, अब उन्हें दोहरी मार पड़ेगी। संभव है कि ऐसे में वे यात्री भी मेट्रो की बजाए अपनी गाड़ी से ही सफर करने को प्राथमिकता देने लगें। वैसे जब मेट्रो का किराया बढ़ा था तब भी लाखों यात्रियों ने इसका उपयोग छोड़ दिया। इसका बाकायदा लिखित रिकार्ड भी है। अब जबकि मेट्रो स्टेशनों की पार्किंग भी महंगी हो जाएगी तो इससे यात्रियों की संख्या में और गिरावट आना तय है।