जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की तरफ से लगातार हो रही गोलाबारी से नियंत्रण रेखा के पास रहने वालों की हिफाजत के लिये सीमा पर केंद्र सरकार बंकरों का निर्माण करवा रही है। केंद्र सरकार ने पिछले महीने ही नियंत्रण रेखा (एलओसी) और अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर रहने वाले नागरिकों की हिफाजत के लिए 14,000 बंकरों के निर्माण की योजना को मंजूरी दी थी। जिसमें सामुदायिक और निजी बंकर शामिल हैं। पाकिस्तान भारतीय सीमा के पास रहने वाले नागरिकों को निशाना बनाते हुए लगातार गोलीबारी करता है, जिससे जान-माल का नुकसान उठाना पड़ता है। केंद्र सरकार की योजना के अनुसार नियंत्रण रेखा पर पुंछ और राजौरी जिला में 7,298 बंकरों का निर्माण किया जाएगा और जम्मू में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर कठुआ और सांभा जिले में 7,162 अंडरग्राउंड बंकरों का निर्माण किया जाएगा। सरकार 13,029 व्यक्तिगत बंकरों और 1,431 सामुदायिक बंकरों का निर्माण करने की योजना है। 160 वर्ग फुट में बने एक व्यक्तिगत बंकर में आठ लोग रह सकते है और 800 वर्ग फुट में बनने वाले सामुदायिक बंकर में 40 लोग रह सकते है।