वर्ल्ड कप का फाइनल मैच रविवार को इंग्लैंड के लॉर्ड्स स्टेडियम में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच हुआ था. बता दें की सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने भारत को और इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराया जिसके बाद दोनों की फाइनल में आपसी टक्कर हुई. ये मैच इस रूप में सबसे खास था की ये दोनों टीमें अपने पहले वर्ल्ड कप के लिए खेल रही थीं. और अब ये वर्ल्ड कप इस रूप में भी खास बन गया है की होस्ट टीम इंग्लैंड ने अपने ही घर में पहली बार जीत दर्ज की. इस मैच में रोमांच अपने चरम पर था और इसका फैसला सुपर ओवर के जरिए किया गया पर यहां भी दोनों टीमों के स्कोर बराबर रहे। इसके बाद आइसीसी के नियम के मुताबिक जिस टीम ने अपनी पारी और सुपर ओवर में ज्यादा बाउंड्री लगाए थे उसे विनर करार दिया गया। इस मैच में इंग्लैंड ने पारी और सुपर ओवर में न्यूजीलैंड के मुकाबले ज्यादा बाउंड्री लगाए थे और इस आधार पर उसे विजेता घोषित कर दिया गया. इस मैच में इंग्लैंड ने अपनी पारी में कुल 22 बाउंड्री लगाए। वहीं न्यूजीलैंड की टीम ने अपनी पारी में कुल 17 बाउंड्री लगाए. इंग्लैंड को जीत के लिए 242 रन बनाने थे, लेकिन ये टीम 50 ओवर में दस विकेट पर 241 रन बना पाई और मैच टाई हो गया। विश्व कप के इतिहास में ये पहला मौका है जब कोई फाइनल मैच टाई हुआ। इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था। इंग्लैंड की टीम को इस मैच में जीत के लिए पारी की आखिरी गेंद पर दो रन बनाने थे। क्रीज पर मौजूद बेन स्टोक्स ने शॉट लगाया और मार्क वुड के साथ एक रन पूरा किया.