New Delhi: जसप्रीत बुमराह वनडे और टी 20 क्रिकेट के तो धुरंधर गेंदबाज हैं ही अब उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भी अपनी धाक जमा ली है। टीम इंडिया या दुनिया के बेहतरीन गेंदबाजों में से एक बुमराह ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने टेस्ट क्रिकेट की पहली हैट्रिक हासिल की है। एंटीगा टेस्ट में वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी के 9वें ओवर में बुमराह ने ये कमाल कर दिखाया। जो करना किसी भी गेंदबाज के लिए किसी सपने से कम नहीं होता है। 

बुमराह एक बार फिर वेस्ट इंडीज के बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे। दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन शनिवार को उन्होंने वेस्ट इंडीज के खिलाफ हैट्रिक सहित मात्र 16 रन देकर 6 विकेट झटके। बुमराह ने यह कारनामा पारी के 9वें ओवर की दूसरी गेंद पर डारेन ब्रावो (4), तीसरी गेंद पर शाहमार ब्रूक्स (0) और चौथी गेंद पर रोस्टन चेज (0) को आउट कर किया। इस तरह जसप्रीत बुमराह टेस्ट में हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बने, जबकि वेस्ट इंडीज में हैट्रिक लेने वाले पहले भारतीय बने। 
 
हैट्रिक की बात करें तो बुमराह से पहले भारत के लिए हरभजन सिंह (रिकी पॉन्टिंग, एडम गिलक्रिस्ट और शेन वॉर्न) ने 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता में हैट्रिक ली थी। उस समय वह टेस्ट में हैट्रिक लेने वाले पहले भारतीय बने थे। उनके बाद यह कारनामा तेज गेंदबाज इरफान पठान ने 2006 में कराची मैच में पाकिस्तान के खिलाफ सलमान बट्ट, यूनिस खान और मोहम्मद यूसुफ को आउट कर किया था।   
 
दूसरी ओर दिल्ली में जसप्रीत बुमराह की टेस्ट क्रिकेट में पहली हैट्रिक को लेकर विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा ने कहा...मैं इसका क्रेडिट BCCI  IPL की सलेक्शन कमिटी को देना चाहूंगा जिन्होंने  बुमराह को टीम में चुना और आज वह अपनी ऐसी परफोर्मेंस दे पाए।