नवरात्र के मां दुर्गा के नवस्वरूपों का आज पांचवा दिन है। पांचवे दिन मां स्कंदमाता की पूजा की जाती है। भगवान स्कंद की माता होने के कारण देवी को स्कंदमाता कहा जाता है। सच्चे मन से मां की पूजा करने मां अपने भक्तों को यश,धन और संतान की प्राप्ति होती है। स्कंदमाता की चार भुजाएं हैं। माता दाहिनी तरफ की ऊपर वाली भुजा से भगवान स्कन्द को गोद में पकड़े हुए हैं। जो व्यक्ति मां स्कंदमाता की पूजा अर्चना करता है मां उसकी गोद हमेशा भरी रखती हैं।