जब जब इस धरती पर पाप असहनीय हो जाता है तब तब देवी देवता के अवतरण के रूप में कोई महाशक्ति इस धरती पर अवतार लेकर उस पाप का नाश करती है | इसी तरह देवी दुर्गा भी शक्ति के रुप में अवतरित होकर तीनों लोक में फैले अन्याय व अत्याचार का नाश करती है। मां दुर्गा के मंत्र से शक्ति प्राप्त होती है। मनुष्य पुण्य का भागी हो जाता है। उसके समस्त पापों-विघ्नों का नाश हो जाता है। उसे अक्षय पुण्य-लोकों की प्राप्ति होती है।