पुराणों में कहा गया है कि सृष्टि की रचना करने से पहले, ब्रह्मा जी को आकाशवाणी द्वारा गायत्री मंत्र की प्राप्ति हुई थी। इस सृष्टि को बनाने की शक्ति ब्रह्मा जी को इसी मंत्र से प्राप्त हुई। बाद में हमारे हिन्दू शास्त्र यजुर्वेद और ऋग्वेद में इस मंत्र का महत्व साफ़-साफ़ लिखा गया है। इस मंत्र में सफलता प्राप्त करने की शक्ति मौजूद है।