आज से छह साल पहले हापुड़ शहर में चार लड़के एक लड़की को सरेआम परेशान कर रहे थे, डरी हुई परेशान लड़की को देखकर स्वाति ने उस समय तो लड़की को मनचलों से बचा लिया लेकिन यह घटना स्वाति के दिलो दिमाग पर अपनी कड़वी छाप छोड़ गयी। इस घटना के बाद स्वाति ने ठान लिया कि कुछ भी हो जाये अब वे अपने शहर की लड़कियों को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग देंगी। लड़कियों को मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत करने के लिए स्वाति ने पहले घर से ही इसकी शुरुआत की अब तक लगभग 500 लड़कियों को ट्रेनिंग दे चुकी स्वाति मानती है कि लड़कियों को अपनी सुरक्षा के लिए खुद ही आगे आना होगा। पेशे से वकील स्वाति आज भी लड़कियों को आत्म रक्षा के गुर सीखा रही है।