विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल वागले ने H-1B वीजा के मुद्दे पर बयान दिया है। वागले ने कहा कि हम अमेरिकी अधिकारियों के संपर्क में हैं। जल्द ही इस संबंध में उचित हल निकलेगा। भारत की चिंताएं उस वक्त बढ़ गई है, जब अमेरिका ने H-1B वीजा नियमों को कड़ा करने का संकेत दिया है। इससे पहले अमेरिका ने भारत को भरोसा दिलाते हुए कहा कि H1B वीजा नियमों को कड़ा करना उनकी प्राथमिकता नहीं है। हालांकि, यह डोनल्ड ट्रंप प्रशासन की इमिग्रेशन पॉलिसी के बड़े एजेंडे का एक हिस्सा रहेगा। आपको बता दें कि भारत की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया के बाद अमेरिका की विजिटिंग कॉमर्स सेक्रटरी रीता तेवतिया और भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर के साथ एच-1बी वीजा पर बातचीत हो रही है।