Lucknow(UP): मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में आज आईआईएम में मंत्रियों व आईआईएस अफसरों का ट्रेंनिग कार्यक्रम मंथन शुरू हो गया है। सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने मंथन का एक विशेष कार्यक्रम आईआईएम के साथ शुरू किया है। पहले चरण में मंत्रियों के साथ बैठ कर सुशासन का रोडमैप तैयार करने के लिए यह बैठक हुई है। जिसमें सभी मंत्री और अधिकारियों को भी आज इस बैठक में शामिल किया गया है। एक टीम वर्क के लिए आज यह बैठक है। लक्ष्यों को कैसे प्राप्त कर सकते है। इसलिए टीमवर्क जरूरी है , आज इस लिए यह बैठक हो रही है। मुझे विश्वास है जब आईआईएम जैसे  संस्थान के साथ मिल कर एक बड़ी दिशा में काम के सकते है। प्रथम चरण सकारात्मक रहा। 22 सितंबर को दुबारा बैठेंगे ।

दूसरी ओर सपा मुखिया अखिलेश यादव ने कहा...मोदी सरकार के फैसलों की वजह से देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है। बांग्लादेश से भी खराब हालत में हमारी अर्थव्यवस्था पहुंच गई है। लोगों की नौकरियां खत्म हो रही है। वहीं अखिलेश यादव ने बेरोजगारी को लेकर सीएम योगी पर निशाना साधा और कहा, बाबा कभी कहते हैं 50 लाख लोगों को नौकरी देंगे। कभी कहते हैं 24 लाख लोगों को नौकरी देंगे। अब कह रहे हैं दो लाख लोगों को नौकरी देंगे। बाबा को पता ही नहीं कितने लोग बेरोजगार हैं। उन्होंने कहा कि बाबा की नीतियों की वजह से नौजवानों को रोजगार नहीं मिला बल्कि लोगों की नौकरियां और चलीं गईं।