1. ट्रम्प से मुलाक़ात के बाद परमाणु हथियार छोड़ने को राजी किम जोंग
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के बीच हुई ऐतिहासिक शिखर वार्ता सफल साबित हुई। कल तक अमेरिका को परमाणु युद्ध की धमकी देने वाला किम जोंग अब परमाणु हथियार छोड़ने के लिए राजी हो गया है। वहीं, ट्रंप ने कहा कि जल्द ही उत्तर कोरिया में परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया पर काम शुरू हो जाएगा। 

2. अटल बिहारी वाजपेयी का मेडिकल बुलेटिन, एम्स ने कहा- हालत स्थिर; लेकिन खतरा टला नहीं
एम्‍स ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया कि उनकी हालत स्थिर है। एम्स द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया है कि पूर्व पीएम पर दवाओं का असर हो रहा है। लेकिन जब तक संक्रमण नियंत्रित नहीं होता, तब तक उन्‍हें अस्पताल में रहना होगा। वाजपेयी को सोमवार सुबह 11:30 बजे एम्स में भर्ती कराया गया है। वह लंबे समय से बीमार चल रहे हैं। 

3. RSS मानहानि केस में राहुल गांधी पर आरोप तय, चलेगा केस; कोर्ट में बोले- मैं दोषी नहीं हूं
आरएसएस मानहानि केस में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भिवंडी कोर्ट से झटका लगा है। महाराष्ट्र की भिवंडी कोर्ट ने राहुल गांधी के खिलाफ आरोप तय किए हैं। अब राहुल पर आइपीसी की धारा 499 और 500 तहत के केस चलेगा। अब मामले की अगली सुनवाई 10 अगस्त को होगी। 

4. जम्मू-कश्मीर में दोहरा आतंकी हमला, पुलवामा में 2 जवान शहीद, अनंतनाग में 11 जख्‍मी
जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर आंतकियों ने सुरक्षाबलों को अपना निशाना बनाया है। दक्षिण कश्मीर में मंगलवार सुबह आतंकियों ने दो अलग-अलग घटनाओं को अंजाम दिया है। जानकारी के अनुसार आतंकियों ने पुलवामा में कोर्ट कॉम्प्लेक्स के पास जम्मू-कश्मीर के पुलिस के एक दल पर हमला कर दिया है, वहीं दूसरी तरफ आतंकियों ने अनंतनाग में भी सीआरपीएफ के एक दल पर ग्रेनेड से हमला किया। केंद्र द्वारा शांति बहाली के लिए रमजान माह के दौरान एकतरफा संघर्षविराम किए जाने के बावजूद कश्मीर के भीतरी इलाकों में आतंकी हिंसा में लगभग 30 फीसद की बढ़ोतरी हुई है।

5. संत भय्यूजी महाराज ने गोली मारकर की खुदकुशी
आध्यात्मिक संत भय्यू महाराज ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। परिजन उन्हें लेकर बॉम्बे हॉस्पिटल पहुंचे थे लेकिन बताया जा रहा है कि अस्पताल लाने से पहले ही उन्होंने दम तोड़ दिया था। जानकारी के मुताबिक, पारिवारिक कलह या अवसाद के कारण भय्यू महाराज ने ये कदम उठाया। डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि भय्यू महाराज ने दाईं कनपटी पर गोली मारी।