पुरानी सियासी कहावत है कि दिल्ली की कुर्सी पर कौन बैठेगा, ये यूपी से तय होता है और 2019 के आम चुनाव के लिए यूपी की दो मुख्य पार्टियां ने साथ आने का ऐलान किया है। 80 सीटों वाले उत्तर प्रदेश में नरेंद्र मोदी को रोकने के लिए सपा-बसपा खुले तौर पर साथ आ गई हैं। शनिवार को लखनऊ में मायावती और अखिलेश यादव एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। हालांकि अभी ये तय नहीं है कि ये कांग्रेस का साथ लेंगे या नहीं। जानिए पूरी खबर