जेट एयरवेज की ओर से अपने सभी ऑपरेशन्स अस्थायी तौर पर रोके जाने के बाद दिल्ली में जेट एयरवेज के कर्मचारियों ने जंतर मंतर पर धरना किया। 26 बरसों से सेवाएं दे रही जेट एयरवेज का ऑपरेशन रोक दिया गया है। यह पिछले पांच साल में बंद होने वाली सातवीं एयरलाइन कंपनी है। बैंकों ने कर्ज में डूबी कंपनी को और मदद देने से इनकार कर दिया है। कंपनी के ढेरों कर्मचारियों ने जंतर-मंतर पर बड़ा विरोध प्रदर्शन किया, जिसे साइलेंट अपील का नाम दिया गया। एयरलाइंस में नौकरी पाना एक समय ड्रीम पूरा होने के बराबर माना जाता था। लेकिन यह चार्म खत्म होता नजर आ रहा है|