नई दिल्ली: देश भर में कोचिंग हब के नाम से जाने जाने वाले राजस्थान के कोटा शहर के साथ अब एक और बडी उपलब्धि जुड़ गई है। यहां के सांसद ओम बिड़ला लोकसभा के अध्यक्ष बनने जा रहे है और इस समाचार के आने के बाद से कोटा में जश्न का माहौल है। राजस्थान के लिए भी यह बड़ी उपलब्धि है। उपराष्ट्रपति रहे भैंरों सिंह शेखावत के बाद ओम बिड़ला राजस्थान के दूसरे नेता होंगे जो इतन बड़े पद तक पहुंचे हैं।

ओम बिरला के 17वीं लोकसभा स्पीकर के लिए एनडीए के उम्मीदवार हैं. उनकी उम्मीदवारी की घोषणा पर लोकसभा की पूर्व स्पीकर सुमित्रा महाजन ने खुशी जताई है. उन्होंने उम्मीद जताई है कि वे लोकसभा की कार्यवाही अच्छी तरह से संभालने में कामयाब होंगे. इससे पहले सुमित्रा महाजन ने ओम बिरला से मुलाकात की.

कोटा में ओम जी भाईसाब के नाम से पहचाने जाने वाले ओम बिड़ला तीन बार विधायक और अब दूसरी बार सांसद बने हैं। ओम बिड़ला राजस्थान का बड़ा वैश्य चेहरा हैं। ओम बिड़ला ने वर्ष 2003 में पहली बार उन्होंने कोटा दक्षिण से भाजपा के टिकट पर विधायक का चुनाव लड़ा था इसके बाद वे लगातार तीन बार विधायक बने। वर्ष 2013 में विधायक चुने जाने के बाद पार्टी ने 2014 में उन्हें कोटा-बूंदी से सांसद का चुनाव लड़वा दिया और वे सांसद बन गए।मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में इंदौर से 8 बार की सांसद रहीं सुमित्रा महाजन को लोकसभा अध्यक्ष बनाया गया था।