सीतापुर-बरेली नेशनल हाईवे की दुर्दशा किसी से छिपी नहीं है। यह सड़क पिछले 10 वर्षों से बन रही है। अब तक इसका निर्माण कार्य पूरा नहीं हो सका है। इस दौरान दो बार नई सरकारें भी बन गईं लेकिन, सड़क की स्थिति नहीं सुधर सकी। कुछ महीने पहले सड़क का निर्माण कर रही एरा कंपनी दिवालिया हो गई है। ऐसे में इस सड़क का निर्माण कार्य आज भी अधर में लटका है। इस पर आए दिन सड़क हादसे होते हैं। प्रदेश की राजधानी को देश की राजधानी से जोड़ने वाले इस नेशनल हाईवे की दुर्गति को लेकर दैनिक जागरण ने नेशनल हाईवे के पास चौपाल लगाई। इसमें संभ्रात लोगों ने फोरलेन का निर्माण जल्द से जल्द पूरा करने की मांग की है।