दो दिन पहले ही उत्तर प्रदेश बार कौंसिल की अध्यक्ष चुनी गईं दरवेश यादव की दीवानी कचहरी परिसर में गोली मारकर हत्या कर दी गई है। वह अध्यक्ष बनने पर स्वागत समारोह के बाद वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद कुमार मिश्रा के चैम्बर में बैठी थीं। वहीं पर पूर्व सहयोगी अधिवक्ता मनीष शर्मा ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से यूपी बार कौंसिल की अध्यक्ष को तीन गोली मारी दी। इसके बाद मनीष शर्मा ने खुद को भी दो गोली मार ली।

मनीष शर्मा को सिकंदरा हाइवे स्थित रेनबो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दरवेश को पुष्पांजलि अस्पताल में डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया है। एडीजी अजय आनंद समेत अन्य अधिकारी और वरिष्ठ अधिवक्ता मौके पर पहुंच चुके हैं।  हत्या के कारणों का पता नहीं लग सका है।