6 साल की उम्र में रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने वाले बच्चे से लेकर 69 साल की उम्र में दुनिया के सबसे प्रभावशाली नेताओं में शामिल हैं… प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी। ये सफर आम नहीं था.. बल्कि इस सफर में संघर्ष की वो कहानी है जो एक मिसाल है। सन्यासी जीवन से लेकर स्वंयसेवक संघ के एक कर्मठ कार्यकर्ता और फिर देश के प्रधानमंत्री। यानी अपनी मेहनत लगन और आगे बढ़ने की सोच से दुनिया को मुट्ठी में करने की मिसाल। पीएम मोदी की लोकप्रियता ही है कि उनके बारे में लोग बहुत कुछ जानते हैं लेकिन हम बताते हैं उनकी जिंदगी के कुछ अनछुए पहलू।