Ghaziabad(UP): गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (GDA) ने एक अनोखी पहल की है। प्राधिकरण ने लुप्त होते पक्षियों को बचाने के उनके लिए इंसानों की तरह फ्लैट तैयार किए हैं जिनमें उनके उनके रहने की पूरी व्यवस्था की गई है। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण ने हाउसिंग सोसाइटियों में पक्षियों के लिए घर बनाए हैं। उन्होंने इन सोसाइटियों में ऐसे टॉवर लगाए हैं, जिसमें पक्षियों के घोंसलों के लिए लकड़ी के बक्से बने हैं। साथ ही पक्षियों के नहाने के लिए इसमें स्वीमिंगपूल भी बनाए गए हैं।

GDA की वाइस चेयरमैन कंचन वर्मा का कहना है कि हम चाहते हैं कि इस तरह के प्रयोग बिल्डर्स भी करें ताकि लोगों को प्रकृति के करीब लाया जा सके। GDA ने पक्षियों के रहने के लिए लगभग 60 'फ्लैट्स' का निर्माण किया है। यह 'फ्लैट्स' पूरी तरह से सुसज्जित हैं और इनमें पक्षियों के लिए ऐड-ऑन स्विमिंग पूल भी है। GDA ने जयपुर से प्रेरणा लेते हुए यह कदम उठाया है और इसका उद्देश्य शहरी क्षेत्र में पक्षियों की आबादी बढ़ाना है।